भोपाल, स्टेट ब्यूरो। कांग्रेस के हनुमान चालीसा पाठ और राम मंदिर निर्माण के समर्थन पर भाजपा ने तंज किया है। सरकार और संगठन ने पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ और दिग्विजय सिंह पर हमला बोला है। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने मंगलवार को ट्वीट किया 'एक ओर कमल नाथ सुंदरकांड करा रहे हैं तो दूसरी ओर दिग्विजय सिंह लंका कांड में व्यस्त हैं। इतिहास गवाह है कि जब-जब कोई धार्मिक कार्य होता है तो आसुरी शक्तियां विघ्न डालतीं हैं। कमोबेश ये उसी तरह की राजनीति है, भगवान उन्हें कभी माफ नहीं करेंगे।'

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्र ने कहा- राममंदिर मुद्दे पर कांग्रेस का स्वांग अब और नहीं चलेगा

डॉ. मिश्र ने आगे कहा कि कांग्रेस को समझना चाहिए कि रामभक्त इतने नासमझ नहीं हैं कि कथनी और करनी का भेद नहीं समझ पाएं। राममंदिर मुद्दे पर कांग्रेस का स्वांग अब और नहीं चलेगा।

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता संजर ने कहा- पाप धोने के लिए हनुमान चालीसा पाठ पर्याप्त नहीं है

उधर, भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व सांसद आलोक संजर ने कहा कि पाप धोने के लिए हनुमान चालीसा पाठ पर्याप्त नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ और कांग्रेस माफी मांगे। प्रभु श्रीराम के भक्त हनुमान अपनी शरण में आए हर व्यक्ति का उद्घार करने में पूर्णत समर्थ हैं, लेकिन कांग्रेस ने पूरे राम मंदिर आंदोलन के दौरान जो पाप किए हैं, उनसे हनुमान चालीसा का पाठ भी मुक्ति नहीं दिला सकेगा।

भगवान राम की ठेकेदार न बने भाजपा : गुप्ता

मप्र कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने हैरानी जाहिर की है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ द्वारा धार्मिक एवं आध्यात्मिक आयोजन किए जाने से पूरी भाजपा बौखला क्यों रही है? उन्होंने गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा से सवाल किया है कि भगवान राम का नाम लेने का अधिकार क्या केवल भाजपा को ही है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और भाजपा का जब जन्म नहीं हुआ था, तब से महात्मा गांधी राजा राम की प्रार्थनाएं गाते रहे हैं। इसलिए वे भक्ति और भक्तों के ठेकेदार न बनें।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस