मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, जेएनएन। Priyanka In Politics, प्रियंका गांधी की राजनीति में एंट्री पर भाजपा ने कांग्रेस का घेराव किया है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस पर तंज सकते हुए कांग्रेस एक ही परिवार की पार्टी बताया। संबित पात्रा ने कहा कि प्रियंका गांधी की महासचिव के तौर पर नियुक्ति इस बात को दर्शाती है कि कांग्रेस एक ही परिवार की पार्टी है। 

इतना ही नहीं, संबित पात्रा ने राहुल को भी लपेटे में ले लिया है। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी की नियुक्ति एक बात को दर्शाती है कि कांग्रेस ने राहुल गांधी की असफलता को सार्वजनिक रूप से स्वीकार कर लिया है। महागठबंधन से ठुकराए जाने के बाद कांग्रेस को घर की बैसाखी की ज़रूरत थी। उन्होंने कहा कि न्यू इंडिया में यह सवाल पूछा जा रहा है कि नेहरू जी के बाद इंदिरा जी फिर राजीव, फिर सोनिया जी, फिर राहुल जी और अब प्रियंका जी। भाजपा में पार्टी ही परिवार है तो कांग्रेस में परिवार ही पार्टी है। यही फर्क है हमारे बीच। 

यह भी पढ़ें: Priyanka Gandhi की राजनीति में एंट्री, राहुल ने बनाया कांग्रेस महासचिव, मिली पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान

वहीं, केंद्रीय मंत्री और भाजपा के यूपी प्रभारी जेपी नड्डा ने कहा, 'प्रियंका गांधी आधिकारिक तौर पर कांग्रेस की महासचिव बन गई हैं, लेकिन सभी जानते हैं कि यह घरेलू कंपनी कैसे काम करती है। यह कांग्रेस की ओर से पहली आधिकारिक घोषणा भी है कि राहुल जी विफल रहे हैं। अब उन्हें सबको बताना चाहिए कि परिवारवादी सोच का क्या दृष्टिकोण है?'

केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि यह कांग्रेस और राहुल गांधी द्वारा उनकी असफलता पर एक मुहर है। तथ्य यह है कि कोई भी 'गठबंधन' किसी भी राज्य में कांग्रेस से हाथ मिलाना नहीं चाहता, वे अप्रासंगिक हो रहे थे, उन्हें राहुल और सोनिया जी की सीट सुरक्षित करने के लिए पूर्वी यूपी का यह कार्ड खेलना पड़ा। 

वहीं, भाजपा नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने भी ट्वीट कर कांग्रेस को घेरा है। उन्होंने लिखा कि यूपी ईस्ट के लिए प्रियंका वाड्रा (गांधी) को महासचिव के रूप से नियुक्त करना 2019 की सबसे UN-EVENTFUL NEWS है। फिर भी चाटुकारों के लिए यह बड़ी खबर है। प्रियंका कार्ड हर चुनाव से पहले खेला जाता आया है। हर बार यह फ्लॉप साबित हुआ। परिवार पॉलिटिक्स पर खतरा मंडरा रहा है।'

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने बड़ा दांव चलते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा को पार्टी महासचिव नियुक्त किया है। प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान दी गई है और इसी के साथ प्रियंका की राजनीति में एंट्री हो चुकी है। प्रियंका गांधी अब उत्तर प्रदेश की राजनीति को देखेंगी।

रविशंकर प्रसाद ने कसा तंज
केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि प्रियंका जी कांग्रेस की महासचिव बन गई हैं, उन्हें मेरी शुभकामनाएं। चूंकि जिस पार्टी में एक परिवार की ही चिंता हो, वहां इस तरह की पोस्टिंग कोई आश्चर्य की बात नहीं हैं। बस केवल एक बात है कि उन्हें केवल पूर्वी यूपी तक सीमित भूमिका क्यों दी गई है? उनके व्यक्तित्व के हिसाब से उन्हें एक व्यापक भूमिका मिलनी चाहिए थी।

Posted By: Nancy Bajpai

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप