नई दिल्ली, प्रेट्र। बीजेपी ने सरकार द्वारा चिकित्सा पाठ्यक्रमों में आरक्षण देने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्णय की सराहना की। आरक्षण के तहत अखिल भारतीय कोटे में ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के उम्मीदवारों को लाभ मिलेगा। पार्टी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने समतावादी समाज की स्थापना के लिए ऐतिहासिक निर्णय लिया, जबकि कांग्रेस ने अपने शासनकाल में आज तक सामाजिक न्याय और कमजोर वर्गो के उत्थान के लिए कुछ नहीं किया।

केंद्र सरकार ने अखिल भारतीय आरक्षण योजना के तहत 27 प्रतिशत ओबीसी के लिए और 10 प्रतिशत आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) के लोगों के लिए आरक्षित करने की घोषणी बृहस्पतिवार को की थी, जो वर्तमान शैक्षणिक सत्र 2021-22 से स्नातक एवं स्नातकोत्तर चिकित्सा एवं डेंटल कोर्स पर लागू होगा।

बीजेपी के नेता और केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार द्वारा सामाजिक और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गो के विकास के लिए यह कदम ऐतिहासिक है जिसके लिए हम उनको बधाई देते है। भूपेंद्र यादव ने कांग्रेस और विपक्षी दलों की आलोचना करते हुए आगे कहा कि सरकार सामाजिक और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए काम कर रही हैं, मगर कांग्रेस ने अपने शासनकाल में इन वर्गों के उत्थान के लिए कुछ नहीं किया।

यादव ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि देश में इतने सालों तक राज करने के बाद भी कांग्रेस ने ओबीसी और ईडब्ल्यूएस वर्ग के लिए कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सबको साथ में लेकर चलती है, सरकार सबका साथ, सबका विकास के सिद्धांत पर काम करती है। विपक्ष द्वारा इस फैसले पर हमलों पर यादव ने कहा कि जो लोग पिछड़े समुदायों के उत्थान की बात करते थे, उन्हें केवल अपने-अपने परिवारों और अपने कल्याण के उत्थान की चिंता थी, मगर मोदी सरकार इस वर्ग के लिए काम कर रहीं हैं। कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार ने आयोगों द्वारा दी गई कई रिपोर्टो के बावजूद भी इन वर्गों के लिए काम नहीं किया।

Edited By: Avinash Rai