नई दिल्‍ली, एएनआइ। भारतीय जनता पार्टी की संसदीय बैठक मंगलवार को संसद की लाइब्रेरी बिल्‍डिंग में हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में हुई इस बैठक में गृहमंत्री अमित शाह व तमाम वरिष्‍ठ नेता शामिल हुए। बैठक में मौजूद नेताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सभी सांसद राजनीति से हटकर काम करें। जनता से मिलें और सामाजिक कार्य करें। प्रधानमंत्री ने सांसदों को नसीहत देते हुए कहा कि सभी अपने क्षेत्र में रहें और काम के नए आइडिया को अपनाएं।

प्रधानमंत्री मोदी की नसीहत-

- संसद में मौजूद रहें सांसद व मंत्री

- रोस्टर ड्यूटी में अनुपस्‍थित सांसदों के बारे में शाम तक मुझे दी जाए जानकारी

- राजनीति से हटकर करें काम

- देश के सामने जल संकट है, इसके लिए करें काम

- क्षेत्र के अधिकारियों से संपर्क कर जनता की समस्याओं पर करें विचार

- सरकारी काम और योजनाओ में लें हिस्‍सा

- अपने क्षेत्र में जाकर सरकार की योजनाओं के बारे में जनता को बताएं

- अपने संसदीय क्षेत्र के लिए कोई एक इनोवेटिव काम करें

- जानवरों की बीमारियों पर भी करें काम

बैठक में हिस्‍सा लेने के लिए पहले से पहुंचने वालों में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, संसदीय मामलों के मंत्री प्रहलाद जोशी, विदेश मंत्री एस जयशंकर और विदेश राज्‍य मंत्री वी मुरलीधरन शामिल हैं।
इससे पहले 14 जुलाई को भाजपा ने लोकसभा व राज्‍यसभा सदस्‍यों को नोटिस जारी कर आज की इस बैठक के बारे में सूचित कर दिया था ताकि सभी इसमें मौजूद रहें। 9 जुलाई को हुई संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसदों को नए निर्देश थे। उन्होंने सांसदों को गांधी जयंती से लेकर पटेल जयंती यानि कि 2 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक अपने संसदीय क्षेत्र में 150 किलोमीटर की पदयात्रा करने को कहा था।

Posted By: Monika Minal