नई दिल्ली, प्रेट्र। आम चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारी बहुमत से जीतकर दोबारा सत्ता में लौटी भाजपा लोकसभा के डिप्टी स्पीकर का पद अपने किसी मित्रवत दल को दे सकती है। है। हालांकि, पार्टी ने अभी इस पर कोई अंतिम फैसला नहीं किया है। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

भाजपा अगले हफ्ते इस पर कोई फैसला ले सकती है, क्योंकि मोदी सरकार के गठन के बाद 17 जून से संसद का पहला सत्र शुरू हो रहा है।

इस तरह की खबरें भी हैं कि भाजपा डिप्टी स्पीकर का पद वाईएसआर कांग्रेस या बीजद को दे सकती है। ये दोनों ही दल राजग के सदस्य तो नहीं हैं, लेकिन भाजपा के समर्थक के रूप में इन्हें देखा जाता है। आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव में वाईएस जगनमोहन रेड्डी के नेतृत्व वाली वाईएसआर कांग्रेस भारी जीत दर्ज की थी। वहीं, ओडिशा विधानसभा चुनाव में नवीन पटनायक की पार्टी बीजद लगातार पांचवीं बार जीत हासिल करने में सफल रही। ये दोनों ही दल विपक्षी गठबंधन से हमेशा दूरी बनाकर रहे।

हालांकि, भाजपा की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने भी डिप्टी स्पीकर के पद पर अपना दावा पेश किया है, लेकिन भाजपा ने इस पर शिवसेना से कोई आधिकारिक वादा नहीं किया है।

पिछली सरकार में भाजपा ने डिप्टी स्पीकर का पद मित्र दल तमिलनाडु की अन्नाद्रमुक को दिया था। अन्नाद्रमुक तब भाजपा और कांग्रेस के बाद लोकसभा में तीसरी सबसे बड़ी पार्टी थी।

इस लोकसभा चुनाव में वाईएसआर कांग्रेस ने 22 सीटों पर जीत दर्ज की है। वहीं, भाजपा के सहयोगी दलों शिवसेना और जदयू को क्रमश 18 और 16 सीटें मिली हैं। बीजद को लोकसभा की 12 सीटों पर विजय मिली थी। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप