नई दिल्ली, प्रेट्र। संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने बजट सत्र को छोटा करने की अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा कि सरकार चाहती है कि पूरा सत्र चले और इस दौरान अधिकतम कामकाज हो। लेकिन वित्त वर्ष 2018-19 के लिए अहम वित्त विधेयक लोकसभा में पेश नहीं हो पाने पर भाजपा ने संसदीय दल की बैठक में अगले दो दिन के लिए सभी भाजपा सांसदों को दोनों सदनों में उपस्थित रहने का व्हिप जारी किया है।

भाजपा की संसदीय दल की बैठक में तीन लाइन के व्हिप में सभी भाजपा सांसदों को अगले दो दिनों तक संसद के दोनों सदनों में उपस्थित रहने को कहा गया है। पार्टी की नीति केंद्रीय बजट संबंधी प्रक्रियाओं को पूरा करने के साथ ही प्रमुख बिलों को पारित कराने की है।

अनंत कुमार ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में सभी दलों से संसद की कार्यवाही चलने देने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि सरकार सार्थक चर्चा चाहती है। इस सत्र में मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया, मोटर वेहिकल संशोधन अधिनियम पारित होने हैं।

उन्होंने संसद में हंगामे पर कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस संसदीय परंपराओं का पालन नहीं कर रही है और संसद को सिर्फ भाषण का मंच मानती है। अनंत कुमार ने संवाददाताओं को बताया कि बैठक में कांग्रेस की हंगामा कर कामकाज ठप करने की नीति की आलोचना करते हुए कहा गया कि कांग्रेस लोकतंत्र विरोधी हो गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पीएनबी घोटाले में चर्चा से बचना चाहती है, इसलिए किसी न किसी बहाने से हंगामा करती आ रही है।

 

Posted By: Manish Negi