नई दिल्ली, एजेंसियां। असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन के नेता वारिस पठान के सांप्रदायिक बयान पर सियासत गरमा गई है। भाजपा ने पठान के बयान पर तथाकथित उदारवादियों की चुप्पी पर सवाल उठाया है और कहा है कि इससे नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध के नाम पर चल रही साजिश उजागर हो गई है।

 सीएए विरोधी रैली में वारिस पठान ने कहा, 100 करोड़ पर भारी हैं 15 करोड़

उत्तरी कर्नाटक के कालबुर्गी में 16 फरवरी को सीएए विरोधी रैली में वारिस पठान ने कहा था, 'हमारे एकजुट होने और आजादी हासिल करने का वक्त आ गया है। याद रहे हम 15 करोड़ हैं, लेकिन 100 करोड़ पर भारी पड़ सकते हैं।' उन्होंने आगे कहा था, 'वे कह रहे हैं कि हमने अपनी महिलाओं को आगे कर दिया है-सिर्फ शेरनियों के बाहर से आपके पसीने छूट गए हैं। समझ जाओ जब हम सभी साथ आएंगे तो क्या होगा।' इस रैली में ओवैसी भी मौजूद थे।

संबित पात्रा कहा, सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के नाम पर चल रही साजिश उजागर

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि पठान के बयान से सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के नाम पर चल रही साजिश सामने आ गई है। उन्होंने कहा, 'मैं सीएए का विरोध करने वाले सभी तथाकथित उदारवादियों से पूछना चाहता हूं, वो उनके बयान पर खामोश क्यों हैं।' इससे यह भी साफ हो गया है कि शाहीन बाग में जो महिलाएं धरने पर बैठी हैं उनका नफरत फैलाने के लिए ढाल के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है।

ओवैसी ने जहर बोया, नफरत की फसल उग रही

पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वाली लड़की और वारिस पठान के बयान पर केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि असदुद्दीन ओवैसी ने जो जहर बोया है उससे नफरत की फसल उग रही है। इस तरह के नारे हरगिज स्वीकार नहीं होंगे। वारिस पठान जैसे नेता खुद को प्रासंगिक बनाए रखने के लिए इस तरह के बयान देते हैं।

वहीं, पठान के बयान पर कांग्रेस नेता हुसैन दलवई ने कहा, 'जिन्ना इसी तरह से ही बातें करते थे। और उन्हें यह ध्यान में रखना चाहिए कि इस देश में जिन्ना अभी पैदा नहीं होगा। ना जिन्ना को हिंदू मानेगा और मुसलमान मानेगा।'

एआइएमआइएम-भाजपा में मैच फिक्स तो नहीं : राकांपा

महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री और राकांपा नेता नवाब मलिक ने वारिस पठान और भाजपा के कुछ नेताओं के विवादित बयानों का हवाला देते हुए कहा कि कहीं एआइएमआइएम और भाजपा के बीच विवादित बयान के लिए मैच फिक्स तो नहीं है। उन्होंने ओवैसी की रैली में लड़की द्वारा पाकिस्तान के समर्थन में नारा लगाए जाने की भी निंदा की और इस पर ओवैसी से माफी मांगने को कहा।

शिवसेना-मनसे भी पठान पर हमलावर

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि वारिस पठान जैसे नेताओं का जवाब देने के लिए शिवसेना सक्षम है, भले ही वह सत्ता में है तो क्या। लड़की के पाकिस्तान समर्थक नारे से खुद को किनारा करने के ओवैसी के बयान पर राउत ने कहा, 'आपके मंच से कोई लड़की इस तरह का नारा लगाती है तो इसका मतलब है कि आपने नफरत का माहौल बना दिया है।' जबकि, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता बाला नंदगांवकर ने पठान को खुली धमकी देते हुए कहा कि इसके लिए उन्हें उचित सबक सिखाया जाएगा।

ओवैसी ने हड़काने पर पठान ने दी सफाई

इस बीच, ओवैसी ने पठान को इस तरह के बयान नहीं देने की हिदायत दी है। इसके बाद पठान ने एक बयान जारी कर कहा कि उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया गया है। वह एक सच्चे भारतीय हैं और ऐसा कोई बयान नहीं देंगे जिससे किसी भी वर्ग की भावना आहत होती हो।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस