जागरण संवाददाता, जयपुर। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हु़ड्डा का कहना है कि सूबे में उनके मुख्यमंत्री रहते हुए कोई भी जमीन घोटाला नहीं हुआ है। हुड्डा ने कहा कि 10 साल तक हरियाणा में मुख्यमंत्री रहते हुए मैंने एक इंच जमीन नहीं खरीदी। मंगलवार को जयपुर में आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि हरियाणा की भाजपा सरकार राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से कार्य कर रही है।

उन्होंने कहा कि मैं 10 साल तक हरियाणा में मुख्यमंत्री रहा, लेकिन राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से कोई कार्य नहीं किया। वहीं, मनोहर लाल खट्टर सरकार ने जमीन घोटालों की जांच के लिए आयोग बना रखा है। आयोग की रिपोर्ट आने से पहले ही गुरुग्राम जमीन घोटाले में राबर्ड वाड्रा और उनके नाम से एफआइआर दर्ज करवा दी गई है, यह एफआइआर एक प्राइवेट व्यक्ति ने दर्ज करवाई है। इस पूरे मामले में हरियाणा की भाजपा सरकार पर्दे के पीछे से कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि अगर घोटाला होता तो सरकार की तरफ से एफआइआर दर्ज करवाई जाती। यह एफआइआर राफेल डील के मुद्दे से जनता का ध्यान हटाने के लिए कार्रवाई की गई है। हुड़्डा ने कहा कि केंद्र सरकार को राफेल डील के मामले की जांच के लिए जेपीसी का गठन करना चाहिए, जिससे देश की जनता के सामने राफेल डील का सच सामने आ सके।

सचिन पायलट ने कहा, राफेल मुद्दे पर जिलों में आंदोलन करेगी कांग्रेस

हुड्डा के साथ ही राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने पत्रकारों से बातचीत में राफेल विमान डील में बड़ा घोटाले होने का आरोप लगाते हुए कहा कि जब तत्कालीन रक्षामंत्री मनोहर पार्रिकर गोवा में मछली खरीद रहे थे, तब पीएम नरेंद्र मोदी राफेल डील कर रहे थे। उन्होंने कहा राफेल मुद्दे पर प्रदेश के हर जिले में आंदोलन किया जाएगा।

Posted By: Sachin Mishra