मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली।  एक तरफ जहां जम्मू-कश्मीर में अतिरिक्त दस हजार अर्धसैन्य बलों की तैनाती को लेकर प्रदेश की राजनीति गर्म हो रही है, वहीं भाजपा चुनाव की तैयारी में जुट गई है। माना जा रहा है कि पार्टी अपनी ओर से हरियाणा व महाराष्ट्र के साथ ही जम्मू-कश्मीर में भी अक्टूबर में ही विधानसभा चुनाव कराने की अनुशंसा कर सकती है। मंगलवार को भाजपा कोर ग्रुप की बैठक के बाद अगले दस दिनों में पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा वहां का दौरा भी कर सकते हैं।

जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक माहौल गर्म है। पीडीपी मुखिया महबूबा मुफ्ती की ओर से नेशनल कांफ्रेस के नेता फारूक अब्दुल्ला से आग्रह किया गया कि वह प्रदेश में सर्वदलीय बैठक बुलाएं। परोक्ष तौर पर यह भाजपा के खिलाफ एकजुट होने का प्रयास भी माना जा रहा है। इधर, सूत्रों की मानें तो भाजपा चुनाव को लेकर मन बना चुकी है। जिस तरह गांवों में विकास को लेकर जनता में विश्वास पैदा हुआ है, उसने भाजपा का उत्साह बढ़ा दिया है। बस अमरनाथ यात्रा की समाप्ति का इंतजार किया जा रहा है।

ध्यान रहे कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने प्रदेश में राष्ट्रपति शासन बढ़ाने के प्रस्ताव का जवाब देते हुए ही साफ कर दिया था कि चुनाव आयोग जब भी चाहे केंद्र चुनाव के लिए तैयार है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप