डिब्रूगढ़, पीटीआइ\एएनआइ। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को बुधवार को डिब्रूगढ़ जिले में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (एएएसयू) के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए।

दरअसल, मुख्यमंत्री सोनोवाल असम का फसल कटाई त्योहार ‘भोगाली बिहू’ मनाने के लिए अपने परिवार के पास जा रहे थे। मुख्यमंत्री का काफिला डिब्रूगढ़ हवाई अड्डे से गृहनगर चबुआ के रास्ते पर था। इसी दौरान AASU कार्यकर्ताओं का एक दल उनके काफिले की ओर दौड़ा और काले झंडे दिखाने लगा। इसके साथ ही एएएसयू कार्यकर्ताओं ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ नारे भी लगाए।

इस दौरान प्रदर्शनकारियों को 'सर्बानंद गो बैक', 'सोनोवाल मुर्दाबाद', 'सीएए आमी ना मानु' (हम सीएए को नहीं मानेंगे) और 'जय ऐ असोम' (असम की जय) चिल्लाते हुए सुना गया।

मौके पर मौजूद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर काबू पा लिया और उन्हें काफिले तक जाने से रोक दिया। नागरिकता कानून का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों द्वारा मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाए जाने की यह दूसरी घटना है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस