नई दिल्ली, प्रेट्र। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से अपील की है कि वे सोशल मीडिया के माध्यम से गंदगी न फैलाएं। उन्होंने यह भी कहा कि यह मुद्दा किसी विचारधारा से जुड़ा हुआ नहीं है, लेकिन यह किसी सभ्य समाज को शोभा भी नहीं देता।

अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के भाजपा कार्यकर्ताओं से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने देश में सकारात्मक खबरों के पक्ष में माहौल बनाने पर जोर दिया। साथ ही वैसी खबरों को साझा करने पर बल दिया जिनसे समाज को मजबूती मिलती है। मोदी ने आजकल किसी मोहल्ले में दो परिवारों के बीच होने वाली लड़ाई को राष्ट्रीय खबर बनने पर भी चिंता जताई।

एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा, 'आजकल लोग नियमों की सीमा को आसानी से लांघ लेते हैं। वह कुछ गलत सुनते या देखते हैं और उस ओर बढ़ जाते हैं। वे यह नहीं देखते कि ऐसा करके समाज को कितना ब़़डा नुकसान पहुंचा रहे हैं। कुछ लोग तो ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करते हैं, जो किसी सभ्य समाज को शोभा नहीं देते।' साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि यह मुद्दा किसी राजनीतिक पार्टी या विचारधारा से जुड़ा हुआ नहीं है। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह 125 करोड़ भारतीयों के बारे में है और हर व्यक्ति को सोशल मीडिया के माध्यम से कभी भी गंदगी फैलाए जाने के खिलाफ खुद को तैयार करना चाहिए।

उन्होंने सोशल मीडिया पर अच्छी चीजों के प्रसार के संबंध में कहा कि 'स्वच्छ अभियान' या स्वच्छता अभियान का संबंध केवल साफ-सफाई से नहीं है, बल्कि इसका संबंध मानसिक स्वच्छता से भी है। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा ने आरोपों को हमेशा दरकिनार किया है और इसके समर्थकों ने बताया कि उन्हें कई बार प्रतिद्वंद्वियों की निंदा का निशाना बनना पड़ता है।

पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत में मोदी ने भारत का चेहरा बदलने वाले वीडियो को शेयर करने का आह्वान किया और कहा कि आज देश 'ऐतिहासिक एवं अभूतपूर्व' उन्नति का गवाह बन रहा है।

मोदी ने कहा कि भारत के हर गांव के पास आज बिजली, स्कूल और शौचालय हैं, जबकि देश आज मोबाइल का सबसे बड़ा निर्माता भी बन चुका है। उन्होंने यह भी कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से आगे बढ़ रही है और साथ ही उड्डयन के क्षेत्र में भी हम तेजी से तरक्की कर रहे हैं। हमारे यहां ज्यादातर लोग अब एसी ट्रेनों के स्थान पर विमानों में सफर करना पसंद कर रहे हैं। इस तरह के विकास से हर भारतीय का गर्व महसूस होगा।

 

Posted By: Arun Kumar Singh