बेंगलुरु, एजेंसी। कर्नाटक में बसवराज बोम्मई सरकार पर कांग्रेस घोटालों के आरोप लगा रही है। सीएम बोम्मई को घेरते हुए कांग्रेस ने राजधानी बेंगलुरु में जगह-जगह पेसीएम (PayCM) नाम के पोस्टर लगाए हैं। बेंगलुरु के कुछ हिस्सों में दीवारों पर चिपकाए गए 'PayCM' के पोस्टर के बाद कांग्रेस ने अब सीएम पद के लिए नकद और 40 प्रतिशत कमीशन के स्क्रीनशॉट जारी किए हैं। इन स्क्रीनशॉट में PSI Scam सहित विभिन्न घोटालों के बारे में में बताया गया है। इनमें सहायक प्रोफेसर और जूनियर इंजीनियर भर्ती घोटाला आदि शामिल हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार पेसीएम पोस्टर के बाद आज जारी हुए कई नए स्क्रीनशॉट में कहा गया है कि जूनियर इंजीनियर पद के लिए 30 लाख रुपये मिले हैं। दूसरे स्क्रीनशॉट में कहा गया है कि ठेकेदारों' के विवरण के साथ 40 प्रतिशत प्राप्त हुआ। एक स्क्रीनशॉट में कहा गया कि सीएम पद के लिए भुगतान विफल रहा है। इसमें 2,500 करोड़ रुपये का लेनदेन मूल्य लिखा हुआ है।

कांग्रेस नेता अपने फोन से पेसीएम का दिखा रहे क्यूआर कोड

सत्तारूढ़ भाजपा के खिलाफ अभियान चलाने के अलावा कर्नाटक कांग्रेस उन भाजपा मंत्रियों को भी निशाना बना रही है, जो कथित रूप से घोटालों का हिस्सा रहे हैं। वहीं, कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता अपने फोन से 'पेसीएम' क्यूआर कोड दिखा रहे हैं।

राजधानी बेंगलुरु में इस तरह का पहला PayCM अभियान बुधवार को पहली बार देखा गया। जब बेंगलुरु में बसवराज बोम्मई की तस्वीर वाले ब्लैक एंड व्हाइट पोस्टर सामने आए। पोस्टरों के बीच में बोम्मई की तस्वीर के साथ एक क्यूआर कोड बना है।

सीएम ने मामला दर्ज करने के दिए आदेश

कांग्रेस के इस अभियान पर बोम्मई ने इसे अपनी और कर्नाटक की प्रतिष्ठा को धूमिल करने की साजिश बताया है। पत्रकारों से बात करते हुए बोम्मई ने कहा कि यह न केवल राज्य की छवि बल्कि मेरी छवि को भी खराब करने के लिए एक व्यवस्थित अभियान है। सीएम ने कहा कि संबंधित अधिकारियों को तुरंत मामला दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही सीएम ने कहा कि कर्नाटक की छवि खराब करने के लिए कोई भी प्रयास किया गया है तो सरकार इसे समाप्त करने का प्रयास करेगी।

Edited By: Dhyanendra Singh Chauhan