नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित हो गए हैं। राज्य की कुल 70 सीटों में से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों ने कुल 62 सीटों पर जीत दर्ज की है। पार्टी ने राज्य की सभी 70 सीटों पर उम्मीदवार खड़े किए थे। इस तरह पार्टी का स्ट्राइक रेट 90 फीसद के आसपास रहा है। पार्टी को लगभग सभी सीटों पर भाजपा उम्मीदवारों से टक्कर मिली। हालांकि, केवल 8 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार विजय हासिल कर सके। बीजेपी ने एनडीए के अपने सहयोगी दलों जदयू के लिए दो और लोजपा के लिए एक सीट छोड़ी थी। इस तरह पार्टी का स्ट्राइक रेट 12 फीसद के आसपास रहा। जदयू और लोजपा के उम्मीदवार अपनी सीट नहीं बचा सके।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 66 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे। इनमें से कोई भी सीट पार्टी के खाते में नहीं गई। कांग्रेस ने गठबंधन के तहत चार सीटें लालू प्रसाद के नेतृत्व वाली राजद के लिए छोड़ी थी। राजद के उम्मीदवारों को भी सभी सीटों पर शिकस्त झेलनी पड़ी। इसके अलावा मायावती की बहुजन समाज पार्टी ने सभी 70 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे। हालांकि, किसी भी सीट पर उसे कामयाबी हासिल नहीं हुई।

मत प्रतिशत की बात करें तो आम आदमी पार्टी को करीब 54 फीसद मत हासिल हुए। यह पिछले चुनाव में पार्टी को प्राप्त वोट के लगभग बराबर है। इस चुनाव में भाजपा का मत प्रतिशत 38.50% के आसपास रहा। मत प्रतिशत के मामले में कांग्रेस तीसरे स्थान पर रही। कांग्रेस उम्मीदवारों को कुल-मिलाकर करीब 4.26 फीसद मत हासिल हुए। बहुजन समाज पार्टी को लगभग 0.71 फीसद मत मिले। राजग के घटक दलों जदयू और लोजपा को क्रमशः 0.90 फीसद और 0.36 फीसद के आसपास मत हासिल हुए। 

दिल्ली में सभी 70 सीटों के लिए आठ फरवरी को मतदान हुआ था। इससे पहले 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी उम्मीदवारों ने 67 सीटों पर जीत दर्ज की थी। भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार महज तीन सीट पर जीत हासिल कर सके थे। 

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस