वाशिंगटन (एएनआइ)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के बीच हुई बातचीत को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। बातचीत के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने पीएम ट्रूडो से कह दिया कि क्या तुम लोगों (कनाडा) ने व्हाइट हाउस नहीं जला दिया था।

ट्रंप औऱ ट्रूडो के बीच 25 मई को बातचीत हुई। इस दौरान जब कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो ने राष्ट्रपति ट्रंप से कहा कि टैरिफ लगाने का औचित्य राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे के रूप में कैसे साबित किया जा सकता है। इस पर ट्रंप ने तपाक से कहा- क्या तुम लोगों ने व्हाइट हाउस को नहीं जलाया?. ट्रंप का मतलब साल 1812 में हुए युद्ध से था। इस युद्ध में ब्रिटिश सैनिकों ने व्हाइट हाउस को आग के हवाले कर दिया था। ऐसा माना जाता है कि वाशिंगटन पर ब्रिटिश हमले यॉर्क, ओन्टारियो पर अमेरिकी हमले के बदले में था, जो अंततः कनाडा बन गया। उसके पहले, यह एक ब्रिटिश उपनिवेश था।

दरअसल, अमेरिका ने कनाडा से एल्युमीनियम और स्टील आयात करने पर नए कर लगा दिए हैं। इसके बाद कनाडा के पीएम ट्रूडो ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप से इस मुद्दे पर बात की। वहीं, बुधवार को कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो ने उत्तरी अमेरिकी मुक्त व्यापार समझौते (एनएएफटीए) और द्विपक्षीय व्यापार संधि के अमेरिका के प्रस्ताव को खारिज कर दिया।  

इससे पहले, राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा कि अगर संशोधित NAFTA डील पर हस्ताक्षर किए जाते हैं, तो वह एल्यूमीनियम और इस्पात उत्पादों पर नए लगाए गए 25 प्रतिशत टैरिफ छोड़ देंगे। बता दें कि NAFTA कनाडा, मेक्सिको और संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा हस्ताक्षरित एक समझौता है, जो उत्तरी अमेरिका में एक त्रिपक्षीय व्यापार खंड बना रहा है, जो 1 जनवरी 1 99 4 को लागू हुआ था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021