नई दिल्ली, एजेंसियां। श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे पांच दिवसीय भारत यात्रा पर शुक्रवार को नई दिल्ली पहुंचे। केंद्रीय मंत्री संजय धोत्रे ने दिल्ली हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया। अपनी यात्रा के दौरान वे व्यापार, रक्षा और समुद्री सुरक्षा जैसे अहम मुद्दों पर बातचीत करेंगे। पिछले साल नवंबर में अपने भाई गोतबाया राजपक्षे के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद से उनकी यह पहली भारत यात्रा है।

मनोहन सिंह और राहुल गांधी से मुलाकात की

नई दिल्ली में शुक्रवार को राजपक्षे ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मुलाकात कर कई मुद्दों पर चर्चा की। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा भी बैठक के दौरान मौजूद थे। श्रीलंकाई नेता शनिवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात करेंगे। राजपक्षे महात्मा गांधी की समाधि राजघाट भी जाएंगे और वहां पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। दिल्ली में अपने आधिकारिक कार्यक्रमों से इतर राजपक्षे वाराणसी, सारनाथ, बोधगया और तिरुपति की यात्रा भी करेंगे।

पिछले  नवंबर में अपने छोटे भाई गोतबाया राजपक्षे के राष्ट्रपति बनने के बाद महिंदा का यह पहला विदेश दौरा है। गोतबाया ने राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद बड़े भाई महिंदा को प्रधानमंत्री बनाया था। 

भारत और श्रीलंका के मौजूदा संबंध होंगे मजबूत

महिंदा के कार्यालय ने कहा था कि इन मुलाकातों से दोनों देशों के मौजूदा संबंध और प्रगाढ़ होंगे। इस दौरे पर पीएम महिंदा भारत से मिलने वाले 45 करोड़ डॉलर (करीब 3200 करोड़ रुपये) के कर्ज को भी अंतिम रूप दिए जाने का प्रयास करेंगे।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस