वाशिंगटन, एएफपी। अमेरिका की विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी में सोमवार से राष्ट्रपति उम्मीदवार को चुनने की प्रक्रिया शुरू हो गई। आयोवा प्रांत के प्राइमरी चुनाव से इसकी शुरुआत हुई। प्राइमरी चुनाव में पार्टी के प्रतिनिधि मतदान करते हैं। उम्मीदवारी पाने की होड़ में अभी 11 दावेदार हैं। अमेरिका में इस साल नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव होना है। डेमोक्रेटिक उम्मीदवार बनने वाला व्यक्ति चुनाव में रिपब्लिकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को चुनौती देगा।

मध्य-पश्चिमी प्रांत आयोवा में प्राइमरी चुनाव से पहले रविवार को दावेदारों ने अपने पक्ष में माहौल बनाने के लिए जमकर प्रचार किया। सीनेटर बर्नी सैंडर्स ने आयोवा सिटी में अपने समर्थकों से कहा, 'देश के आधुनिक इतिहास में यकीनन यह सबसे अहम चुनाव है।' जबकि पूर्व उप राष्ट्रपति जो बिडेन ने डेस मोइनेस में करीब 1100 समर्थकों के बीच कहा, 'आप डोनाल्ड ट्रंप की नींद उड़ा सकते हैं। मैं आपसे वादा करता हूं कि अगर आप मेरे साथ खड़े होते हैं तो हम ट्रंप के नफरत और विभाजनकारी शासन का अंत कर देंगे।' आयोवा के बाद न्यू हैंपशायर में 11 फरवरी को प्राइमरी चुनाव होगा।

सैंडर्स को बिडेन पर मामूली बढ़त

डेमोक्रेटिक उम्मीदवारी को लेकर हालिया सर्वे में सैंडर्स को बिडेन पर मामूली बढ़त मिलती दिखी है। अन्य दावेदार साउथ बेंड, सीनेटर एलिजाबेथ वारेन और इंडियाना के पूर्व मेयर पेट बटिगिएग भी ज्यादा पीछे नहीं हैं। न्यूयॉर्क के पूर्व मेयर माइकल ब्लूमबर्ग और टॉम स्टीयर जैसे अरबपति भी होड़ में शामिल हैं। इनके अलावा माइकल बेनेट, भारतवंशी सांसद तुलसी गबार्ड, एमी क्लोबुशर, डेवल पैट्रिक ओर एंड्रयू यंग भी दावेदार हैं।

दो डेमोक्रेट दावेदारों ने प्रचार पर खर्च किए 2800 करोड़ रुपये

राष्ट्रपति के दावेदारों में कई अरबपति भी शामिल हैं। डेमोक्रेटिक पार्टी के दो दावेदारों ने अपने प्रचार में करोड़ों रुपये खर्च किए हैं। प्रचार अभियान में मीडिया मुगल माइकल ब्लूमबर्ग और टॉम स्टीयर ने पिछले साल अपने प्रचार अभियान में 38.9 करोड़ डॉलर यानि करीब 2800 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

Posted By: Neel Rajput

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस