इस्लामाबाद, प्रेट्र। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्‍तान बीच तनाव चरम पर है। ऐसे में पाकिस्तान के विदेश विभाग ने कहा है कि रूस ने भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता की पेशकश की है। उसने बातचीत के लिए जगह भी मुहैया करने का प्रस्ताव किया है।

पाकिस्‍तान विदेश विभाग ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच पनपे तनाव के बाद रूसी विदेश मंत्री सर्गेई विक्टोरोविच लावरोव ने विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी को फोन कर क्षेत्रीय हालात पर चर्चा की। रूसी विदेश मंत्री ने दोनों देशों के आपसी विवाद को सुलझाने के लिए मध्यस्थता करने और वार्ता के लिए स्थान मुहैया कराने के अपने देश के प्रस्ताव को दोहराया।

विदेश विभाग के मुताबिक, कुरैशी ने दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने में रूस की संतुलित और साकारात्मक भूमिका की सराहना की। बता दें कि आतंकवाद के खिलाफ ऐक्शन को लेकर भारत और अंतरराष्ट्रीय समुदाय की ओर से जबरदस्त दबाव का सामना कर रहे पाकिस्तान की पैंतरेबाजी जारी है। अब उसने पुलवामा आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी लेने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के खिलाफ कार्रवाई के सवाल पर भारत से सबूत की मांग की है। खास बात यह है कि पुलवामा आतंकी हमले की जिम्मेदारी खुद जैश ने ली है।

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप