जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। आर्थिक मुश्किलों से जूझ रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान में लोकसभा चुनाव में भारी जीत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी और दक्षिण टेलीफोन पर हुई बातचीत में प्रधानमंत्री मोदी ने साफ कर दिया कि शांति और आपसी सहयोग के लिए आतंकवाद से मुक्त वातावरण बनना जरूरी है। चुनाव के दौरान भी इमरान खान मोदी की जीत की स्थिति में भारत-पाक के बेहतर रिश्ते की उम्मीद जताई थी, लेकिन इसे चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश के रूप में देखा गया था।

पीएमओ के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को टेलीफोन करने और बधाई देने के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि उनकी सरकार की पड़ोसी प्रथम नीति पर शुरु से ही प्रतिबद्ध है। उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को संयुक्त रूप से गरीबी से लड़ने के पहले दिए गए सुझावों को भी याद दिलाया। मोदी ने जोर दिया कि हमारे क्षेत्र में शान्ति, प्रगति और समृद्धि और सहयोग बढ़ाने के लिए हिंसा व आतंकवाद से मुक्त वातावरण बनाना जरूरी है।

वहीं पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार बातचीत में इमरान खान ने दक्षिण एशिया में शांति, प्रगति और समृद्धि के लिए प्रधानमंत्री मोदी के साथ मिलकर काम करने की आशा जताई। खान ने इच्छा जताई कि अपने लोगों की बेहतरी के लिए दोनों देश मिलकर काम करें। इससे पहले इमरान खान ट्वीट के जरिए भी पीएम मोदी को बधाई दे चुके हैं। प्रधानमंत्री बनने के बाद से ही इमरान खान भारत के साथ बातचीत की पेशकश कर रहे हैं। लेकिन भारत साफ कर चुका है कि आतंक और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकता है।

गौरतलब है कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले और बाद में भारत की ओर से बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के आतंकी अड्डे पर एयर स्ट्राइक के बाद दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर पहुंच गया और युद्ध जैसे हालात बन गए थे। पिछले तीन दशक से पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद से ग्रसित भारत ने पहली बार सीमा पार कर आतंकी शिविर पर हमला किया था। आतंकी हमले के विरोध में भारत ने पाकिस्तान को दिया विशेष देश के दर्ज (मोस्ट फेवर्ड नेशन) को वापस ले लिया था।

अल्ताफ हुसैन ने दी जीत की बधाई
पाकिस्तान के राजनीतिक दल मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम) के नेता अल्ताफ हुसैन ने भारत में हुए चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीत पर उन्हें बधाई दी है।

अल्ताफ हुसैन ने कहा है कि भारत के लोगों ने एक बार फिर से मोदी पर विश्वास जताते हुए उन्हें बड़ा समर्थन दिया है। मोदी ने जिस प्रकार से बीते पांच साल समाज के सभी वर्गो के विकास के लिए संघर्ष किया उससे भारत दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र की मजबूत अर्थव्यवस्था बन गया है। भाजपा की जीत भारत में लोकतांत्रिक मूल्यों की जीत है। वहां पर सभी को आगे बढ़ने का बराबर मौका मिलता है।

एमक्यूएम नेता ने कहा, आजादी के बाद भारत में मजबूत लोकतंत्र इसलिए कायम हो सका क्योंकि वहां पर सामंती व्यवस्था को दरकिनार किया गया और भूमि सुधार कानून लागू किए गए। जबकि पाकिस्तान में आज भी सामंती प्रथा कायम है और वह सेना के साये में अपना वजूद कायम रखे हुए है। पाकिस्तानी जनता कुछ भ्रष्ट लोगों और सेना की मनमानी की शिकार है। पूरा पाकिस्तान इन थोड़े से लोगों की गिरफ्त में है। पाकिस्तान में अल्ताफ हुसैन के खिलाफ कई मामले दर्ज हैं। वह पिछले कई वर्षो से लंदन में निर्वासित जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति और नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री से भी हुई बातचीत
मोदी की मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद और नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री माधव नेपाल हाल से भी फोन पर बात हुई। पूर्व राष्ट्रपति नशीद ने ऐतिहासिक जनादेश पर प्रधानमंत्री को बधाई दी और कहा कि हाल के दिनों में मालदीव और भारत के बीच संबंध और गहरा हुआ है। उन्होंने इस दौरान क्षेत्र में चरमपंथ और कट्टरता की ताकतों से लड़ने के लिए करीबी सहयोग के महत्व पर जोर दिया। 

मोदी ने नशीद को धन्यवाद दिया और दोनों देशों के बीच एक मजबूत, पारस्परिक रूप से लाभप्रद साझेदारी को बनाए रखने के लिए अपनी प्रतिबद्धता दोहराई। विदेश मंत्रालय ने कहा कि माधव नेपाल ने अपनी पार्टी और गठबंधन को एक शानदार, ऐतिहासिक जीत दिलाने के लिए मोदी को गर्मजोशी से बधाई दी। उन्होंने यह विश्वास भी व्यक्त किया कि विश्व-शक्ति के रूप में भारत का उदय पूरे क्षेत्र के लिए लाभदायक है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk