नई दिल्ली, जेएनएन। भारत के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक (कैग) राजीव महर्षि को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का एक्सटर्नल ऑडिटर चुना गया है। वह 2020 से 2023 तक संगठन के एक्सटर्नल ऑडिटर की भूमिका में रहेंगे।

महर्षि को जेनेवा में हुई 72वीं विश्व स्वास्थ्य सभा में बहुमत से इस पद के लिए चुना गया। भारत के अलावा कांगो, फ्रांस, घाना, ट्यूनीशिया और ब्रिटेन के ऑडिटर जनरल भी इस पद की दौड़ में थे। फिलहाल यह पद फिलीपींस के सुप्रीम ऑडिट इंस्टीट्यूशन के पास है।

सीएजी का कहना है कि इस साल महर्षि को यह दूसरी बड़ी अंतरराष्ट्रीय ऑडिट जिम्मेदारी मिली है। इससे पहले उन्हें रोम स्थित कृषि और खाद्य संगठन यानी एफएओ का एक्सटर्नल ऑडिटर चुना जा चुका है। महर्षि फिलहाल संयुक्त राष्ट्र के बोर्ड ऑफ ऑडिटर्स में भी हैं। वे संयुक्त राष्ट्र में बाहरी ऑडिटर्स के समूह के उपाध्यक्ष हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप