नई दिल्ली, आइएएनएस। महाराष्ट्र में पुणे के औंध सैन्य ठिकाने पर सोमवार को बिम्सटेक (बे ऑफ बंगाल इनीशिएटिव फॉर मल्टी सेक्टोरल टेक्नोलॉजिकल एंड इकोनॉमिक कोऑपरेशन) देशों के संयुक्त सैन्य अभ्यास की भव्य शुरुआत हुई। सेना के मुताबिक, इसका उद्देश्य बिम्सटेक देशों को आतंकवाद के खिलाफ अभियानों के लिए योजना बनाने और उन्हें अंजाम देने के लिए प्रशिक्षित करना है।

बिम्सटेक देशों में भारत के अलावा बांग्लादेश, भूटान, म्यांमार, श्रीलंका, नेपाल और थाईलैंड शामिल हैं। यह अभ्यास 16 सितंबर तक चलेगा। सेना की ओर से जारी बयान के मुताबिक, अभ्यास के दौरान अर्ध-शहरी माहौल में आतंकवाद के खिलाफ बेहतरीन तौर-तरीकों के इस्तेमाल, टीम के चयन और विशेष रणनीतिक स्तर के अभियानों पर फोकस किया जाएगा।

संयुक्त अभ्यास का शुभारंभ सदस्य देशों की सैन्य टुकडि़यों की परेड के साथ हुआ। इसका नेतृत्व भारतीय टुकड़ी के कैप्टन गौरव शर्मा ने किया।
समारोह में मुख्य अतिथि गोल्डन कतर डिवीजन के जनरल ऑफिसर कमांडिंग (जीओसी) मेजर जनरल संजीव शर्मा ने सदस्य देशों के सैन्य अधिकारियों की मौजूदगी में परेड का निरीक्षण किया। इस दौरान सेना के हेलीकॉप्टरों ने फ्लाई पास्ट का किया। हेलीकॉप्टरों पर संयुक्त अभ्यास में हिस्सा ले रहे देशों के राष्ट्रध्वज लगे हुए थे।

 

Posted By: Arun Kumar Singh