मुंबई। तेज गेंदबाज अशोक डिंडा [4/17] की जोरदार गेंदबाजी की बदौलत सौरव गांगुली की अगुवाई वाली पुणे वारियर्स टीम ने आईपीएल-पांच के तीसरे भिड़ंत में पूर्व चैंपियन मुंबई इंडियंस को 29 रनों से हराते हुए अपना पहला मुकाबला जीतकर जीत से शुरुआत की।

वानखेडे स्टेडियम में हुए मुकाबले में पुणे खराब शुरुआत के बाद उबर ही नहीं सका लेकिन अंतिम ओवरों में पुछल्लों ने तेजी से रन बनाए जिससे वारियर्स 20 ओवर में नौ विकेट पर 129 रन बनाने में सफल रहा। स्टीवन स्मिथ ने सर्वाधिक 39 रन [32 गेंद, 4 चौका] बनाए। जबकि राबिन उथप्पा [36] और दिनेश कार्तिक [नाबाद 14] रनों का योगदान दिया। मलिंगा के अलावा मुनफ पटेल 25 रन देकर दो विकेट लिया। जवाब में मुंबई 20 ओवर में नौ विकेट पर 100 रन ही बना सकी। मुंबई के लिए दिनेश कार्तिक और जेम्स फ्रैंकलिन ने 32-32 रन बनाए। मुंबई ने अपने पहले मुकाबले में पिछले दो बार की विजेता चेन्नई सुपर किंग्स को आठ विकेट से हराया था। पहले मैच में अंगुली में चोट लगा बैठे सचिन तेंदुलकर इस मैच में नहीं खेले।

आसान लक्ष्य के जवाब में मुंबई की शुरुआत बेहद खराब हुई और दो ओवर में मात्र पांच रन के पर तीन विकेट खो दिए। मुरली कार्तिक ने आतिशी बल्लेबाज रिचर्ड लेवी [0] पारी की दूसरी ही गेंद पर स्टंप आउट करा दिया। इसके बाद अगले ओवर में अशोक डिंडा ने पहली ही गेंद पर अंबाती रायुडू [1] को स्लिप में मुरली कार्तिक के हाथों कैच आउट कराया। डिंडा ने पांच गेंद बाद रोहित शर्मा [1] को कैच आउट कराकर मुंबई खेमे में हलचल मचा दी। हालांकि इसके बाद फ्रैंकलिन और दिनेश कार्तिक ने विकेटों के पतन को रोकते हुए टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। इस दौरान टीम का रन रेट काफी धीमा हो गया। चौथे विकेट के लिए 49 रनों की साझेदारी कराने के बाद दिनेश कार्तिक को मुरली ने उथप्पा के हाथों स्टंप आउट करा दिया। दिनेश कार्तिक 32 गेंदों में 32 रन [4 चौका व 1 छक्का] रन बनाए। दिनेश के आउट होने के बाद सूर्य कुमार यादव खाता खोले बगैर ही मार्लोन सैमुअल्स की गेंद पर बोल्ड हो गए। दूसरे छोर पर फ्रैंकलिन ने संयम के साथ खेलते हुए अपना विकेट बचाए रखा। हालांकि इस बीच पुणे ने कीरोन पोलार्ड [8] का विकेट चटकाकर जोरदार सफलता हासिल की। पोलार्ड को राहुल शर्मा ने बोल्ड कर दिया। पोलार्ड के बाद कप्तान हरभजन सिंह ने आते ही चौके से अपना खाता खोला। मुंबई को 18 गेंदों में 45 रन चाहिए थे। लेकिन डिंडा ने 18वें ओवर में फ्रैंकलिन को सीमा रेखा के पास कैच आउट कराकर पुणे को जीत पक्की कर दी।

इससे पूर्व पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने के बाद पुणे को बेहद खराब शुरुआत मिली और मलिंगा ने पहले ही ओवर की पांचवीं गेंद पर मनीष पांडे को खाता खोले बगैर ही बोल्ड कर दिया। इसके बाद कप्तान सौरव गांगुली [3] हरभजन की गेंद पर आगे बढ़कर मारने के प्रयास में चूक गए और विकेटकीपर दिनेश कार्तिक ने स्टंप आउट कर दिया। लंबे समय बाद मैदान पर दिखने वाले मुनफ पटेल ने अपनी शानदार वापसी कराई और वायने पार्नेल को 11 रन के निजी स्कोर पर बोल्ड कर दिया। पुणे का विकेट नियमित अंतराल पर गिरता रहा 12 रन बनाने के बाद कालम फर्गुसन एक रन चुराने के प्रयास में रन आउट हो गए। पुणे के चार विकेट 50 रन से पूर्व गिर गए। हालांकि राबिन उथप्पा ने कुछ देर तक एक छोर संभाला और पांचवें विकेट के लिए स्टीवन स्मिथ के साथ 44 रनों की साझेदारी की। 33 गेंदों में 36 रन बनाने वाले उथप्पा को कीरोन पोलार्ड ने 16वें ओवर में काट एंड बोल्ड कर चलता किया। अगले ओवर में मलिंगा ने मार्लोन सैमुअल्स [4] बोल्ड कर वापस भेज दिया। प्रज्ञान ओझा ने अपने अंतिम ओवर में भुवनेश्वर कुमार को एक शानदार गेंद पर चौंकाते हुए बोल्ड कर दिया। 18वें ओवर में बल्लेबाजी करने आए दिनेश कार्तिक ने पहली ही गेंद पर चौका जमाया। एक गेंद के अंतराल पर लांग आन में छक्का जड़ दिया। पुणे की पारी का यह एकमात्र छक्का रहा।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर