mahindra
  • podcast
  • Epaper
  • Hindi News

हरिद्वार कुंभ के पहले शाही स्नान पर 13 अखाड़ों के हजारों साधु-संतों ने गंगा में लगाई डुबकी

6 photos    |  Published Mon, 12 Apr 2021 06:47 PM (IST)
1/ 6हर की पैड़ी पर हर-हर महादेव का जयघोष करता संन्यासी
हर की पैड़ी पर हर-हर महादेव का जयघोष करता संन्यासी

सोमवती अमावस्या पर हरिद्वार में कुंभ के पहले शाही स्नान पर एक-एक कर 13 अखाड़ों के हजारों साधु-संत जब हरकी पैड़ी पर गंगा में डुबकी लगाने पहुंचे तो सबकी नजर मानो ठहर गई। बैरागी अखाड़ों के वैराग्य का रंग और नागा संन्यासियों का आकर्षण अलग ही अनुभूति करा रहा था। चारों दिशाओं में गूंजते 'हर-हर महादेव' व 'बम-बम भोले' के जयघोष के साथ ही पंचाक्षरी मंत्र की धुन से वातावरण महकने लगा।

2/ 6शाही जुलूस के साथ रथों में सवार होकर स्नान के लिए जाते बैरागी अणियों के साधु-संत
शाही जुलूस के साथ रथों में सवार होकर स्नान के लिए जाते बैरागी अणियों के साधु-संत

सोमवार सुबह 9.45 बजे शुरू हुआ स्नान का क्रम शाम 6.20 बजे तक चला। प्रशासन के अनुसार शाम छह बजे तक अखाड़ों के साधु-संतों समेत 30 लाख से अधिक श्रद्धालु गंगा घाटों पर स्नान कर चुके थे। उल्लास के बीच कोविड गाइड लाइन के नियम कब पीछे छूट गए पता ही नहीं चला।

3/ 6हर की पैड़ी पर डुबकी लगाते बैरागी संत और उनके अनुयायी
हर की पैड़ी पर डुबकी लगाते बैरागी संत और उनके अनुयायी

रात्रि प्रथम प्रहर से ही बड़ी संख्या में श्रद्धालु हरकी पैड़ी पर पहुंचने लगे थे। हालांकि मेला अधिष्ठान ने हरकी पैड़ी को आम श्रद्धालुओं के लिए प्रतिबंधित किया था, लेकिन श्रद्धालुओं की भीड़ और आस्था को देखते हुए उन्हें सुबह सात बजे तक यहां स्नान करने दिया गया। इसके बाद पूरे क्षेत्र को खाली करा अखाड़ों के लिए आरक्षित कर दिया गया। इसके बाद उन्हें अन्य गंगा घाटों पर भेजा गया।

4/ 6ब्रह्मकुंड में उतरते निरंजनी अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरि
ब्रह्मकुंड में उतरते निरंजनी अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरि

सुबह ठीक साढ़े नौ बजे जुलूस के रूप में अखाड़ों के पहुंचने का सिलसिला आरंभ हुआ। निर्धारित क्रम के अनुसार सबसे पहले श्रीपंचायती अखाड़ा श्रीनिरंजनी ने आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरि के नेतृत्व में स्नान किया। उनके साथ ही श्रीपंचायती आनंद अखाड़े के संतों ने भी गंगा में डुबकी लगाई।

5/ 6गंगा में डुबकी लगाते श्री पंचदशनाम जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि
गंगा में डुबकी लगाते श्री पंचदशनाम जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि

आचार्य महामंडलेश्वर अवेधानंद गिरि के नेतृत्व में श्रीपंदशनाम जूना अखाड़ा ब्रह्मकुंड पहुंचा। जूना अखाड़ा के छत्र तले आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी रामकृष्णानंद सरस्वती के साथ अग्नि, आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी शिवेंद्र पुरी के साथ आह्वान अखाड़े के संतों ने स्नान किया।

6/ 6गंगा में डुबकी लगाने जातीं किन्नर अखाड़े की आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी
गंगा में डुबकी लगाने जातीं किन्नर अखाड़े की आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी

गंगा में डुबकी लगाने जातीं किन्नर अखाड़े की आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी किन्नर अखाड़े के संतों ने भी जूना अखाड़े के छत्र तले गंगा में डुबकी लगाई। इसी क्रम में महानिर्वाणी अखाड़े ने आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी विशोकानंद गिरि, अटल अखाड़े ने अपने आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी विश्वात्मानंद महाराज के नेतृत्व में स्नान किया। इसके बाद तीनों बैरागी अणियों का क्रम था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept