अपने पसंदीदा टॉपिक्स चुनें close

Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब

संजय पोखरियाल   |  Publish Date:Tue, 16 Aug 2016 02:48 PM (IST)
Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब
Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब

राखी का त्यौहार आते ही बहन-भाई एख दूसरे का इंतजार करने लगते हैं, पर कई बार ऐसा भी होता है कि भाई किसी और शहर में है तो बहन किसी और शहर में। ऐसे मौकों पर फेमिली के साथ न होना थोड़ा मायूस करता है, पर आज कई ऐसे वीडियो कॉलिंग एप्लिकेशंस मौजूद हैं, जो आपकी इस मायूसी को मिटा सकते हैं।

Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब
Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब

हैंगआउट

वीडियो और वॉयस कॉलिंग के जरिए फैमिली से कनेक्ट रहना है तो हैंगआउट भी एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है। इसकी मदद से फ्री में टेक्स्ट मैसेज और वॉयस टॉक को एंजॉय कर सकते हैं। इसे इस्तेमाल करना भी आसान है। इसके लिए आपके पास गुगल या जीमेल एकाउंट होना चाहिए। इनमें 10 लोगों के साथ फ्री ग्रुप वीडियो कॉल कर सकते हैं। यह फेस-टु-फेस बात करने के लिए उपयोगी है।

Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब
Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब

वाइबर

यह भी लोकप्रिय एप्लीकेशन है, जो मैसेज, वीडियो कॉल, ऑडियो कॉल आदि की सुविधा देता है। इसे अपने फोन में इंस्टॉल कर रक्षाबंधन पर फैमिली के साथ कनैक्ट रह सकते हैं। इसका इस्तेमाल एंड्रॉयड और आइओएस डिवाइस के साथ किया जा सकता है। यह बिल्कुल फ्री एप है।

Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब
Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब

फेसटाइम

अगर आप एपल के डिवाइस यानी आइफोन,आइपैड, मैक आदि इस्तेमाल करते हैं तो फेसटाइम ऐप के इस्तेमाल से फैमिली से दूरी का अहसास कम होगा। यह वीडियो चैटिंग और कॉलिंग के लिए लोकप्रिय एप्लिकेशन है। यह आइओएस के साथ इंटीग्रेटेड होता है, इसलिए आपको अलग से कोई सॉफ्टवेयर या फिर सेटअप करने की जरूरत नहीं पड़ती। इसके लिए आपको एपल आईडी और कॉन्टैक्ट लिस्ट में अन्य यूजर्स नंबर्स की जरूरत होती है, जिससे आप आसानी से वन टच वीडियो कॉल कर सकत हैं।

Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब
Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब

स्काइप

आप किसी दूसरे शहर मे हो या फिर देश से बाहर, स्काइप फैमिली से कनेक्ट रहने का एक अच्छा जरिया हो सकता है। रक्षाबंधन में बहन से दूर हों तो फोन से कॉल करने के बजाय स्काइप पर फेस टू फेस बातचीत करने की बजाय स्काइप पर फेस-टु-फेस बात चीत करेंगे तो दूरी का अहसास कम होगा।

Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब
Pics: तकनीक इस तरह रक्षा बंधन पर ले आई भाई-बहन को करीब

लाइन

वॉयस और वीडियो कॉल के साथ फ्री चैट के लिए ऐप का इस्तेमाल किया जा सकता है। आप दुनिया के किसी भी हिस्से में क्यों न हों, इस ऐप के जरिए कनेक्ट रह सकते हैं। दुनियाभर में एस एप्लिकेशन के 600 मिलियन यूजर्स है। आप पीसी या स्मार्टफोन के जरिए वॉयस और वीडियो कॉल कर सकते हैं। इसमें इंस्टैंट मैसेज भेजने की सुविधा भी है। इसकी खासियत है कि आप 200 लोगों के साथ ग्रुप कॉल कर सकते हैं,जो काफी आकर्षक और मजेदार है। इस ऐप के जरिए फोटो शेयरिंग करना काफी आसान है। इसके अलावा, वीचैट, निंबज, चैटऑन, इमो, फेसबुक मैसेंजर, ऊवू, फ्रिंग, टॉकाटोन आदि का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.OK