• Podcast
  • Epaper
  • Hindi News

a

Tokyo Olympics Photos: नौ भारतीय मुक्केबाजों ने किया है क्वालीफाई, जानें इनके बारे में

9 photos    |  Published Fri, 23 Jul 2021 02:53 PM (IST)
1/ 9ओलंपिक स्वर्ण पदक के काफी करीब हैं अमित पंघाल
ओलंपिक स्वर्ण पदक के काफी करीब हैं अमित पंघाल

पिछले तीन साल के अंदर भारतीय मुक्केबाज अमित पंघाल ने अपने नाम का डंका पूरे विश्व में बजवा है। वह एकमात्र ऐसे भारतीय मुकेक्बाज हैं जिन्होंने विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में फाइनल तक का सफर किया। टोक्यो ओलंपिक में पंघाल को पहली वरीयता दी गई है, ऐसे में वह ओलंपिक स्वर्ण पदक के काफी करीब हैं।

2/ 9छह बार की विश्व चैंपियन हैं मेरी कोम
छह बार की विश्व चैंपियन हैं मेरी कोम

छह बार की विश्व चैंपियन मेरी कोम ने ओलंपिक को लेकर हाल ही में दैनिक जागरण से कहा था कि वह सब कुछ हासिल कर चुकी हैं और इस बार ओलंपिक स्वर्ण पदक पर ही नजरें हैं। मेरी कोम का यह अंतिम ओलंपिक भी हो सकता है, जिसके चलते उन पर सभी प्रशंसकों की विशेष नजरें होंगी।

3/ 9लवलीना बोरगोहेन पर भी होगी नजरें
लवलीना बोरगोहेन पर भी होगी नजरें

ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली असम की पहली महिला खिलाड़ी लवलीना बोरगोहेन वेल्टरवेट वर्ग में साल 2018 और 2019 में वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में कांस्य पदक अपने नाम कर चुकी हैं। एशियन चैंपियनशिप में 2017 में और फिर 2021 में उन्होंने वेल्टवेट वर्ग में कांस्य पदक अपने नाम किया है। इसके अलावा दिल्ली में पहली बार आयोजित हुई भारतीय ओपन अंतराष्ट्रीय मुक्केबाजी टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक हासिल किया था।

4/ 9लाइटवेट वर्ग में मनीष कौशिक करेंगे प्रतिस्पर्धा
लाइटवेट वर्ग में मनीष कौशिक करेंगे प्रतिस्पर्धा

मनीष कौशिक ने पहली बार 2015 में AIBA वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लिया था और पहली बार में ही गोल्ड मेडल अपने नाम किया था। दो साल के बाद मनीष ने नेशनल बॉक्सिंग गेम्स में गोल्ड मेडल हासिल किया था। वे शिव थापा को हराकर नेशनल चैंपियन बने थे। इसके बाद 2018 में मनीष कौशिक ने कॉमनवेल्थ गेम्स में देश का प्रतिनिधित्व किया, लेकिन वे फाइनल मैच में हार गए। इस तरह उनको रजत पदक से संतोष करना पड़ा था।

5/ 9तीन बार ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाले दूसरे बॉक्सर हैं विकास कृष्ण यादव
तीन बार ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाले दूसरे बॉक्सर हैं विकास कृष्ण यादव

विकास कृष्ण यादव भारत के दूसरे ऐसे बॉक्सर हैं, जिन्होंने तीन बार ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया है। पहले नंबर पर विजेंदर सिंह का नाम है। अनुभवी मुक्केबाज विकास कृष्ण यादव 23 जुलाई से शुरू होने वाले टोक्यो 2020 में अपना जौहर दिखाएंगे। ये उनका तीसरा ओलंपिक है। ऐसे में वे इस ओलंपिक को यादगार बनाने के लिए उत्सुक हैं। विकास लंदन 2012 ओलंपिक खेलों में पहली बार रिंग में उतरे थे।

6/ 9एशियाई एमेच्योर बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पदक जीत चुके हैं आशीष कुमार
एशियाई एमेच्योर बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पदक जीत चुके हैं आशीष कुमार

आशीष कुमार ने बैंकॉक में 2019 एशियाई एमेच्योर बॉक्सिंग चैंपियनशिप में मिडिलवेट वर्ग में रजत पदक जीता। मार्च 2020 में, कुमार अम्मान में 2020 एशिया और ओशिनिया बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचे और फिर उसी साल उन्होंने टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई कर लिया था। आशीष कुमार 75 किलोग्राम भार वर्ग में ओलंपिक में मुक्केबाजी करने वाले हैं। इसके बाद वे कुछ टूर्नामेंट खेले जरूर, लेकिन सफलता उनको नहीं मिल सकी।

7/ 92014 एशियन गेम्स में कांस्य पदक जीते थे सतीश कुमार
2014 एशियन गेम्स में कांस्य पदक जीते थे सतीश कुमार

सतीश कुमार ने अभी तक कोई बड़ी प्रतियोगिता देश के लिए नहीं जीती है, लेकिन उनसे उम्मीद है कि वे अगर ओलंपिक में कुछ कमाल दिखाते हैं तो ये देश का गौरव बढ़ाने की बात होगी। सतीश कुमार ने 2014 एशियन गेम्स में कांस्य पदक जीता था। सुपर हैवीवेट कैटेगरी में उन्होंने इनचियोन में हुई इस प्रतियोगिता में तांबा जीता था।

8/ 9साउथ एशियन गेम्स में गोल्ड जीत चुकी हैं पूजा रानी बोरा
साउथ एशियन गेम्स में गोल्ड जीत चुकी हैं पूजा रानी बोरा

17 फरवरी 1991 को भिवानी में जन्मीं पूजा रानी बोरा 2014 एशियन गेम्स में 75 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीत चुकी हैं। इसके अलावा उन्होंने 2016 के साउथ एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल हासिल किया हुआ। वह 2012 में सिल्वर और 2015 में एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीत चुकी हैं। वहीं, 2014 में ग्लास्गो में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में भी पूजा रानी ने देश का प्रतिनिधित्व किया है, लेकिन वे सफल नहीं हो सकीं।

9/ 9ओलंपिक में जाने वाली पंजाब की पहली महिला मुक्केबाज सिमरनजीत कौर
ओलंपिक में जाने वाली पंजाब की पहली महिला मुक्केबाज सिमरनजीत कौर

सिमरनजीत कौर ने 2018 AIBA वुमेंस वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता है। 64 किलोग्राम भार वर्ग में सिमरनजीत कौर ने अहमेट कॉमेर्ट इंटरनेशनल बॉक्सिंग टूर्नामेंट में गोल्ड मेडल जीता है। 9 मार्च 2021 को सिमरनजीत कौर को टोक्यो ओलंपिक का टिकट मिला था, जब उन्होंने एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालीफायर्स टूर्नामेंट में जॉर्डन में फाइनल मुकाबला हारा था, लेकिन सिल्वर मेडल अपने नाम किया था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept