• Book Ad
  • Epaper
  • Hindi News

IPL 2020: दिल्ली के आगे बेरंग हुए सुपर किंग्स, 44 रनों से मिली हार, देखें Photos

6 photos    |  Published Sat, 26 Sep 2020 02:33 PM (IST)
1/ 6चेन्नई को 44 रनों से मिली हार
चेन्नई को 44 रनों से मिली हार

दिल्ली कैपिटल्स ने बल्लेबाजों के जोरदार प्रदर्शन की मदद से इंडियन प्रीमियर लीग 2020 (IPL 2020) के मैच में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को 44 रनों से हराया। दुबई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने तीन विकेट पर 175 रन बनाए। जवाब में सीएसके टीम सात विकेट खोकर 131 रन बनाए।

2/ 6दिल्ली ने चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया
दिल्ली ने चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया

ओपनर पृथ्वी शॉ ([64)] की अगुआई में बल्लेबाजों के संयुक्त प्रयास से दिल्ली ने चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। सीएसके ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी। गेंदबाजों ने शुरू में बल्लेबाजों को बांधे रखा, लेकिन आखिरी में रन गंवाए, जिसके कारण दिल्ली 20 ओवरों में तीन विकेट खोकर 175 रन बनाने में सफल रही।

3/ 6धवन और शॉ ने 94 रन जोड़े
धवन और शॉ ने 94 रन जोड़े

दिल्ली की सलामी जोड़ी शिखर धवन और पृथ्वी शॉ दोनों ने विकेट पर जमने के लिए समय लिया और फिर अपने शॉट खेले। दोनों ने मिलकर 94 रन जोड़े। यहां तक पृथ्वी अपना अर्धशतक पूरा कर चुके थे और धवन अर्धशतक की ओर बढ़ रहे थे।

4/ 6धवन और पृथ्वी को चावला ने आउट किया
धवन और पृथ्वी को चावला ने आउट किया

पीयूष चावला पर रिवर्स स्वीप खेलने के प्रयास में धवन एलबीडब्ल्यू आउट करार दे दिए गए। धवन ने 27 गेंदों में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 35 रन बनाए। पृथ्वी भी चावला के शिकार बने। उन्हें धौनी ने स्टंप किया। उन्होंने 43 गेंदों पर नौ चौके और एक छक्के की मदद से 64 रन बनाए।

5/ 6पृथ्वी ने जीवनदान का उठाया फायदा
पृथ्वी ने जीवनदान का उठाया फायदा

पृथ्वी को इस दौरान जीवनदान भी मिला। पहले ओवर की दूसरी ही गेंद पर गेंद शॉ के बल्ले का अंदरूनी किनारा लेती हुई माही के दस्तानों में समां गई, लेकिन किसी ने भी अपील नहीं की। धौनी और चाहर गेंद के संपर्क की आवाज नहीं सुन सके।

6/ 6रायुडू चोटिल व वॉटसन का बल्ला शांत, दबाव में डुप्लेसिस
रायुडू चोटिल व वॉटसन का बल्ला शांत, दबाव में डुप्लेसिस

अंबाती रायुडू चोटिल हो गए हैं और वॉटसन का बल्ला शांत है। ऐसे में एक बार फिर सारा दबाव फाफ डुप्लेसिस (43) पर आ गया, जिन्होंने रन तो बनाए, लेकिन जीत नहीं दिला सके। महेंद्र सिंह धौनी (15) जब बल्लेबाजी करने आए तब तक यह मैच सीएसके के हाथों से निकल चुका था। सीएसके के बल्लेबाजों को रोकने में सबसे बड़ा योगदान कैगिसो रबादा का रहा, जिन्होंने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept