• Epaper
  • Hindi News

लॉकडाउन के पांचवे दिन भी दिल्ली-एनसीआर में की जा रही है जरूरतमंद लोगों की मदद, देखें तस्वीरें

6 photos    |  Published Sun, 29 Mar 2020 08:52 AM (IST)
1/ 6दिल्ली के मुनरिका में रेन बसेरा में रहने वालों लोगों को मिला फ्री खाना
दिल्ली के मुनरिका में रेन बसेरा में रहने वालों लोगों को मिला फ्री खाना

दिल्ली में राज्य सरकार द्वारा मुनिरका में स्थित रेन बसेरा में रह रहे लोगों को फ्री खाना दिया गया।

2/ 6आरके पुरम जरूरतमंद लोगों को बांटा गया फ्री खाना
आरके पुरम जरूरतमंद लोगों को बांटा गया फ्री खाना

दिल्ली के आरके पुरम में दिल्ली सरकार द्वारा संचालित रैन बसेरे में लोगों के हाथों को सैनिटाइज किया गया। साथ ही फ्री खाना बांटा गया।

3/ 6सैदुल्लाजा क्षेत्र में 73 वर्षीय वरिष्ठ नागरिक की दिल्ली पुलिस ने की मदद
सैदुल्लाजा क्षेत्र में 73 वर्षीय वरिष्ठ नागरिक की दिल्ली पुलिस ने की मदद

दिल्ली पुलिस ने आज सैदुल्लाजा क्षेत्र में रहने वाले एक 73 वर्षीय वरिष्ठ नागरिक को आटा, चावल और अन्य किराने का सामान मुहैया कराया। इस शख्स ने पुलिस को फोन किया था क्योंकि उसके पास खाने के लिए कुछ नहीं था और खाना खरीदने के लिए उसके पास पैसे नहीं हैं।

4/ 6जरूरतमंदों मदद के लिए सामने आए आरएसएस स्वंयसेवक
जरूरतमंदों मदद के लिए सामने आए आरएसएस स्वंयसेवक

दिल्ली में आरएसएस स्वंयसेवकों ने RWA (रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन) के सदस्यों के साथ द्वारका सेक्टर 1 के पास महावीर एन्क्लेव इलाके में जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री वितरित की।

5/ 6झंडेवालान मंदिर ट्रस्ट और सेवा भारती के स्वयंसेवकों ने जरूरतमंदों को खिलाया खाना
झंडेवालान मंदिर ट्रस्ट और सेवा भारती के स्वयंसेवकों ने जरूरतमंदों को खिलाया खाना

दिल्ली के झंडेवालान मंदिर ट्रस्ट और सेवा भारती के स्वयंसेवकों ने COVID-19 के कारण लॉकडाउन में जरूरतमंदों को भोजन परोसने का काम किया।

6/ 6इंदिरापुरम में राष्ट्रीय राजमार्ग 9 पर इकट्ठा हुए लोग
इंदिरापुरम में राष्ट्रीय राजमार्ग 9 पर इकट्ठा हुए लोग

गाजियाबाद में Coronavirus Lockdown के कारण परिवहन सेवाओं की अनुपस्थिति में इंदिरापुरम में राष्ट्रीय राजमार्ग 9 के साथ बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिकों इकट्ठा हुए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept