• Book Ad
  • Epaper
  • Hindi News

फाइबर से भरपूर इन 5 चीज़ों को खाकर कर सकते हैं डायबिटीज को कंट्रोल

5 photos    |  Published Mon, 28 Sep 2020 10:34 AM (IST)
1/ 5दालें हैं फाइबर का अच्छा स्त्रोत (Pic credit- Freepik)
दालें हैं फाइबर का अच्छा स्त्रोत (Pic credit- Freepik)

दालें प्रोटीन के साथ-साथ फाइबर का भी अच्छा स्रोत होती हैं। दालों में पाई जाने वाली कार्बोहाइड्रेट का कुल 40 प्रतिशत फाइबर ही होता है जो ब्लड शुगर को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा पपीता, चेरीज, तरबूज, हरी पत्तेदार सब्जियां, टमाटर, कद्दू के बीज भी डायबिटीज के मरीजों को खाना चाहिए। इसके अलावा रोजाना एक्सरसाइज भी करनी चाहिए।

2/ 5मेथी के पत्ते हैं फाइबर से भरपूर (Pic credit- Freepik)
मेथी के पत्ते हैं फाइबर से भरपूर (Pic credit- Freepik)

मेथी के बीज और पत्तियां दोनों ही डायबिटीज से लड़ने में मददगार हैं। भरपूर मात्रा में फाइबर होने से पाचन क्रिया धीमी होती है जिससे शरीर में कार्बोहाइड्रेट्स और शुगर के एब्जॉर्बप्शन पर कंट्रोल होता है। ये शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल को घटाते हैं। रात को सोने से पहले मेथी के बीज या सुबह मेथी का पानी लेना बहुत फायदेमंद है।

3/ 5अलसी ब्लड शुगर लेवल करता है कंट्रोल (Pic credit- Freepik)
अलसी ब्लड शुगर लेवल करता है कंट्रोल (Pic credit- Freepik)

अलसी फाइबर का खजाना है। रोजाना अलसी के सेवन से दिल की बीमारियां कम होती है और स्ट्रोक का खतरा भी कम होता है। ब्लड शुगर लेवल और इंसुलिन पर भी कंट्रोल करता है।

4/ 5अमरूद है फाइबर का खजाना (Pic credit- Freepik)
अमरूद है फाइबर का खजाना (Pic credit- Freepik)

अमरूद में भी खूब फाइबर होता है। इससे कब्ज से भी लड़ने में मदद मिलती है। डायबिटीज के मरीजों को अक्सर कब्ज की शिकायत रहती है।

5/ 5नारियल करता है डायबिटीज को कंट्रोल (Pic credit- Freepik)
नारियल करता है डायबिटीज को कंट्रोल (Pic credit- Freepik)

नारियल में उच्च मात्रा में फाइबर होता है। इसमें मैंगनीज, ओमेगा-6 फैटी एसिड, फोलेट और सेलेनियम जैसे पोषक तत्व भी पाए जाते हैं। ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होने के कारण, नारियल डाइट में शामिल करने के लिए हेल्दी फूड है। 100 ग्राम नारियल में 9 ग्राम फाइबर होता है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept