mahindra
  • podcast
  • Epaper
  • Hindi News

a

सफेद दाग यानी विटलिगो के क्या हैं बचाव एवं उपचार, जानें यहां

5 photos    |  Published Mon, 21 Jun 2021 05:26 PM (IST)
1/ 5इन चीज़ों से रहें दूर
इन चीज़ों से रहें दूर

कुछ लोगों की त्वचा अति संवेदनशील होती है। ऐसे लोगों को तेज़ गंध वाले साबुन, परफ्यूम डियो, हेयर कलर और कीटनाशकों से दूर रहने की कोशिश करनी चाहिए।

2/ 5दवाओं के सेवन से दूर होती है समस्या
दवाओं के सेवन से दूर होती है समस्या

कई बार उपचार के एक-डेढ़ साल के बाद त्वचा पर दोबारा दाग नज़र आने लगते हैं तो ऐसे में दोबारा दवाओं के सेवन की ज़रूरत पड़ सकती है। अगर दो साल तक दाग वापस दिखाई न दें तो इस बात की संभावना है कि अब दोबारा ऐसी कोई समस्या नहीं होगी।

3/ 5स्किन ग्राफ्टिंग का इस्तेमाल
स्किन ग्राफ्टिंग का इस्तेमाल

उपचार के लिए स्किन ग्राफ्टिग का भी इस्तेमाल किया जाता है। इसमें किसी एक जगह की त्वचा को निकालकर दाग वाले हिस्से पर सिलाई के ज़रिये लगाया जाता है। इससे दाग तो छिप जाते हैं लेकिन स्टिच के हलके निशान दिखाई देते हैं।

4/ 5फोटो थेरेपी है बहुत मददगार
फोटो थेरेपी है बहुत मददगार

मरीज़ों को दाग बनने से रोकने के अलावा त्वचा की स्वाभाविक रंग वापस लाने वाली दवाएं भी दी जाती हैं। फोटो थेरेपी भी बहुत मददगार साबित होती है। इसके तहत सूरज की यूवीए और यूवीबी अल्ट्रावॉयलेट किरणों की मदद से त्वचा की रंगत दोबारा वापस लौटाने की कोशिश की जाती है। इस दौरान मरीज़ को काला चश्मा पहनने को दिया जाता, जिससे उसकी आंखों को सूर्य की किरणों से कोई नुकसान न हो। प्रभावित हिस्से पर खास तरह का लोशन लगाने के बाद मरीज़ को रोज़ाना सुबह आधे घंटे के लिए धूप में बैठने को कहा जाता है।

5/ 5सक्शन ब्लिस्टर एपिडर्मल ग्राफ्ंटिग
सक्शन ब्लिस्टर एपिडर्मल ग्राफ्ंटिग

सक्शन ब्लिस्टर एपिडर्मल ग्राफ्टिग के ज़रिये त्वचा को वैक्यूम के माध्यम से दो अलग हिस्सों में विभाजित करके दाग वाले हिस्से के ऊपर सामान्य त्वचा को रखा जाता है, इससे त्वचा की रंगत बनाने वाले वाला तत्व मेलिनिन दाग वाली जगह में समा कर वहां की रंगत को समान बना देता है। इसमें स्टिच लगाने की ज़रूरत नहीं होती ।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept