अपने पसंदीदा टॉपिक्स चुनें close

'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...

रवि रंजन   |  Publish Date:Sun, 15 Apr 2018 06:32 PM (IST)
'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...
'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...

बिहार, झारखंड एवं ओडिशा के संगठन 'इमारत-ए-शरिया' की ओर से राजधानी के गांधी मैदान में रविवार को 'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन अमीर-ए- शरीयत मौलाना मोहम्मद वली रहमानी ने किया।

'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...
'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...

सम्‍मेलन का उद्देश्य हिन्दू-मुस्लिम सौहार्द और भाईचारे के खिलाफ खड़ी ताकतों के खिलाफ लोगों को सचेत करना है। सम्‍मेलन के दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इसमें जन-सैलाब उमड़ पड़ा है।

'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...
'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...

कार्यक्रम में मौलाना अबु तालीम रहमानी ने कहा जब डोकलाम से लेकर किसी दूसरे बॉर्डर पर फ़ौज को नौजवानों की दरकार लगे, सरकार सिर्फ एक बार हमसे कहे। हम अपने बच्चों को मदरसों से निकाल कफन पहनकर फ़ौज के सुपुर्द कर देंगे।

'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...
'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...

वक्‍ताओं ने कहा कि भारत के मुसलमान भूखे रह सकते हैं, लेकिन देश का सौदा कभी नही कर सकते। हम देश को भी बचाएंगे और जरूरत पड़ी तो पाकिस्तान को भी ठोक देंगे। हमारी एक रिजर्व फोर्स घर में है। वो हमारी औरते हैं। जरूरत पड़ी तो वे भी उठ खड़ी होंगी।

'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...
'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...

इमारत शरिया के नाजिम अनीसुर रहमान कासमी ने बताया कि यह गैर राजनीतिक कार्यक्रम है। उन्होंने आग्रह किया कि इसे राजनीति से जोड़कर न देखा जाए।

'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...
'दीन बचाओ-देश बचाओ' सम्मेलन में नफरत के खिलाफ उठी आवाज, देखें तस्‍वीरें...

सम्मेलन की सुरक्षा के लिए बड़े पैमाने पर तैयारी की गई है। गांधी मैदान में जगह-जगह दंडाधिकारियों, पुलिस अधिकारियों को महिला और पुरुष बल के साथ तैनात किया गया है। सभी गेटों की कमान दंडाधिकारियों के जिम्मे है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.OK