नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय मुक्केबाजी टीम के लिए बुधवार को विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप में अच्छी शुरुआत हुई। दिग्गज मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम के बाद जमुना बोरा (54 किग्रा) ने भी क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की कर ली। दूसरे दौर में जमुना ने पांचवीं सीड अल्जीरिया की ओयूदाद साफोउ को 5-0 से हराया।

जमुना ने बेहद ही कड़े मुकाबले में अल्जीलियाई मुक्केबाज को मात देकर क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की की। नतीजा भले ही 5-0 से भारतीय मुक्केबाज से हक में गया लेकिन अंकों का फासला बेहद कम था। इस बाउट का फैसला करने वाले पांचों रैफरियों ने अंक जमुना के पक्ष में दिए। पांच रैफिरयों के अंक कुछ ऐसे थे 28-29, 27-30, 27-30, 27-30, 27-30।

जमुना ने बेहद आक्रामक शुरुआत की और साफोउ के खिलाफ जैब के जरिए अंक हासिल किए। पहले दौर में आक्रामक खेल दिखाने वाली भारतीय मुक्केबाज ने कुछ गलतियां भी की लेकिन बहुत जल्दी ही संभल गई। उन्होंने अपने बाएं जैब के जरिए साफोउ को चकमा देकर अंक जुटाए। 

पहले राउंड में साफोउ के करीब जाकर पंच लगाने की कोशिश करने वाली जमुना ने दूसरे दौर में अपने खेल में बदलाव किया। इस राउंड में उन्होंने थोड़ी दूरी से खेल दिखाया और अल्जीरियाई मुक्केबाज को पास आकर खेलने को मजबूर किया।  

जमुना ने साफोउ के खिलाफ सही राइट और लेफ्ट कॉम्बिनेशन का प्रयोग किया और अंक हासिल किए। तीसरे दौर में भी जमुना ने अपनी तेजी और सटीक रणनीति से विरोधी मुक्केबाज को मात देने में कामयाबी पाई। अपनी आक्रामकता की वजह से आखिरी दौर में जमुना पिछड़ती नजर आ रही थी और तुरंत ही संभलते हुए अपनी रक्षात्मक खेल दिखाया।

भारत की अनुभवी मुक्केबाज और छह बार की चैंपियन मैरीकॉम ने मंगलवार को (51 किग्रा भार वर्ग में क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी। प्री क्वार्टर फाइनल में मैरीकॉम ने थाईलैंड की मुक्केबाज जुटामास जितपांग (Jutamas Jitpong) को 5-0 से मात दी थी।

 

भारत को इस चैंपियनशिप में अनुभवी सरिता देवी से पदक की उम्मीद थी लेकिन वह हारकर बाहर हो चुकी हैं।

 

Posted By: Viplove Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप