नई दिल्‍ली [जागरण स्‍पेशल]। जकार्ता में खेले जा रहे 18वें एशियाई खेलों में भारत की स्टार स्क्वॉश खिलाड़ी दीपिका पल्लीकल को को स्क्वैश महिला एकल स्पर्धा के सेमीफाइनल में हार झेलनी पड़ी और लगातार दूसरी बार ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा। लेकिन हार के बाद भी भारत को सातवां पदक जरूर मिल गया। उन्‍होंने वहां अपने खेल से पदक के साथ लोगों का दिल भी जीत लिया।

पदकों की लिस्‍ट लंबी
दीपिका को मलेशिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी निकोल डेविड ने सेमीफाइनल में 3-0 (11-7, 11-9, 11-6) से शिकस्त दी थी। दीपिका को भले ही यहां पर हार का सामना करना पड़ा लेकिन उनके जीते पदकों की लिस्‍ट काफी लंबी है। आपको बता दें कि गोल्ड कोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में दीपिका ने तीन मेडल जीते थे। इससे पहले वर्ष 2014 में इंचियोन (द. कोरिया) में हुए एशियाई खेलों में भी उन्‍होंने सिल्वर और ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था। इसके अलावा वह 2014 के ग्लास्गो गेम्स में भी गोल्ड मेडल जीती थीं। लिहाजा उनके पाए जाने वाले पदकों की लिस्‍ट काफी लंबी है। एशियाई खेलों में मिले पदक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर उन्‍हें बधाई भी दी थी। लेकिन यह सब आपको पता भी है। इसलिए हम आपको ये सब नहीं बताने वाले हैं।

दिलचस्‍प जिंदगी
खेल के मैदान से बाहर दीपिका पल्लीकल की जिंदगी बेहद दिलचस्प है। बहुत कम लोगों को यह बात पता है कि दीपिका टीम इंडिया के विकेटकीपर-बल्लेबाज दिनेश कार्तिक की पत्नी है। हालांकि दिनेश कार्तिक की यह दूसरी शादी थी। दिनेश कार्तिक की पहली पत्नी का नाम निकिता था जिसे उन्‍होंने तलाक दे दिया था। इसके बाद दिनेश और दीपिका के बीच नजदीकियां बढ़ती चली गई और बाद में दोनों शादी के बंधन में बंध गए। आपको बता दें कि दीपिका इसाई धर्म को मानने वाली हैं तो दिनेश हिंदू हैं, लिहाजा उनकी शादी भी दोनों के धर्मों के अनुसार हुई है।

मिस फील्‍ड का किस्‍सा
'मिस फील्ड' के दूसरे एपिसोड में दीपिका ने दिनेश कार्तिक को लेकर एक किस्सा बताया, जो काफी बेहद मजेदार था। दीपिका ने इस शो में बताया कि दिनेश ने एक दिन अचानक उन्हें मेसेज किया और पूछा कि क्या वो उनके साथ डिनर पर जाएंगी। इसके बाद दिनेश कार्तिक ने कई बार दीपिका पल्लिकल को मेसेज किया। दीपिका हर बार कोई ना कोई बहाना बना देती थीं। इस दौरान एक दिन दिनेश कार्तिक ने दीपिका से जब डिनर के लिए पूछा तो उन्होंने झूठ कह दिया कि वो अगले दिन ऑस्ट्रेलिया रवाना हो रही हैं। दीपिका और दिनेश एक ही जिम में जाया करते थे लेकिन दोनों के समय में काफी अंतर था। दीपिका सुबह छह बजे जिम जाया करती थीं और उनका झूठ पकड़ने के लिए अगले दिन दिनेश कार्तिक सुबह-सुबह जिम पहुंच गए। इस तरह से दीपिका का झूठ पकड़ा गया और वो काफी शर्मिंदा भी हुईं। अगले दिन दोनों ब्रेकफास्ट के लिए मिले और दोनों के बीच काफी लंबी बातचीत चली। धीरे-धीरे दोनों करीब आए और फिर शादी का फैसला किया।

नंबर वन का दर्जा
आपको बता दें कि दीपिका को अंडर 19 की कैटेगरी में नंबर वन महिला स्क्वैश खिलाड़ी का दर्जा मिल चुका है। जहां तक वर्ल्‍ड रैंकिंग की बात है तो वह 19वें पायदान पर हैं। वे डब्ल्यूएसए रैंकिंग के अंतर्गत शीर्ष 10 में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला भी हैं। चेन्‍नई में 21 सितंबर 1991 को जन्‍मीं दीपिका का पूरा नाम दीपिका रेबेका पल्लीकल है। बहुत कम लोग जानते हैं कि उनके पिता संजीव पल्लीकल एक उद्योगपति हैं और उनकी मां सुसान पल्लीकल एक क्रिकेट खिलाड़ी रह चुकी हैं। आपको बता दें कि महज 11 वर्ष की आयु में ही दीपिका नेशनल चैंपियन बन चुकी थी। जब वह 6ठी कक्षा में थीं तब उन्होंने अपना पहला अंतराष्ट्रीय मैच लंदन में खेला था।

एक नजर :-
2012 स्क्वैश चैंपियंस के टूर्नामेंट में उप विजेता रही।
ऑस्ट्रेलियन ओपन स्क्वैश-2012 महिला ऑस्ट्रेलियन ओपन स्क्वैश-2012 के सेमी फाइनल तक पहुँचने में सफल रही।
फरवरी 2013 में मिडोवूड फार्मेसी ओपन जीतकर छठा डब्ल्यूएसए खिताब जीता।
अक्टूबर 2013 में मकाउ ओपन का खिताब जीता है।

आपकी सोच से कहीं अधिक है केरल में बाढ़ से हुआ नुकसान, जरा यहां डालें नजर 
छततीसगढ़ राजस्‍थान और मध्‍य प्रदेश की जानें इनसाइड स्‍टोरी, अपने ही भंवर में फंसी कांग्रेस 
सत्‍यपाल मलिक को जम्‍मू कश्‍मीर का राज्‍यपाल बनाने के पीछे आखिर क्‍या है केंद्र की मंशा 
राहुल भूल गए हैं आईएसआईएस के गठन का सच, हम याद दिलाते हैं 
आखिर कब रुकेंगे राहुल गांधी के इस तरह के सेल्‍फ गोल वाले विवादितबयान 

Posted By: Kamal Verma