नई दिल्ली, जेएनए। भारतीय वेटलिफ्टर सर्बजीत कौर पर नेशनल एंटी-डोपिंग एजेंसी (नाडा) ने बुधवार को 4 साल का प्रतिबंध लगा दिया। डोपिंग टेस्ट में फेल होने के बाद नाडा ने सर्वजीत पर यह बैन लगाने का फैसला लिया। साल 2017 कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय महिला वेटलिफ्टर ने रजत पदक जीता था।

नाडा ने पंजाब की सर्बजीत पर डोपिंग टेस्ट में फेल होने के बाद कड़ा फैसला करते हुए उन्हें 4 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। 71 किलोग्राम वर्ग में नेशनल चैंपियन सर्बजीत का सैंपल 34वें नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप के दौरान लिया गया था।

नाडा ने एक बयान में कहा, एंटी डोपिंग की अनुशासन पैनल ने वेटलिफ्टर सर्बजीत कौर को एंटी डोपिंग नियमों के उल्लंघन का दोषी पाया है। उनके उपर चार साल की अवधि का प्रतिबंध लगाया गया है। कौर को टेस्ट में पॉजिटीव पाया गया था, उनको प्रतिबंधित चीजों लेने का दोषी पाया गया है।

गौरतलब है इससे पहले 28 दिसंबर को एक अन्य वेटलिफ्टर सीमा पर भी 4 साल का बैन लगाया गया था। सीमा के सैंपल में जिन चीजों की मात्रा पाई गई है वह वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी द्वारा प्रतिबंधित है। इस बयान में कहा गया था, 'उनके जो सैंपल लिए गए थे उसकी समीक्षा रिपोर्ट में निषेधित प्रदार्थ पाए गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक हाइड्रोक्सी 4 मिथॉक्सी टेमोक्सीफेन, सलेक्टिव एस्ट्रोजन रिसेप्टर मॉड्यूलर मेटेनोलोन, एनाबोलिक स्टेरॉयड ओस्टारीन, सलेक्टिव एंड्रोजन रिसेप्टर मॉड्यूलर मौजूद थे। यह सभी वाडा द्वारा प्रतिबंधित प्रदार्थ हैं।'

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस