नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। टोक्यो ओलिंपिक में भारत की शान बढ़ाने वाली भारतीय बैटमिंटन स्टार पीवी सिंधु स्वदेश लौट चुकी हैं। शानदार खेल दिखाते हुए देश के लिए ब्रॉन्ज मेडल जीतकर इतिहास रचने वाली यह स्टार मंगलवार को भारत पहुंची। ओलिंपिक जैसे मंच पर मेडल हासिल कर देश का सिर गर्व से उंचा करने वाली इस चैंपियन खिलाड़ी के स्वागत में एयरपोर्ट पर लोग जमा थे। अब तक भारत को सिर्फ दो पदक ही मिले हैं और इसमें से एक पीवी के नाम रहा।

जापान की राजधानी टोक्यो में भारत का नाम बुलंद कर ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाने वाली पीसी सिंधु ने इतिहास रचा। पिछले ओलंपिक में भारतीय बैडमिंटन स्टार ने सिल्वर मेडल जीता था। इस बार इरादा गोल्ड का था लेकिन एक खराब मुकाबले की वजह से ऐसा नहीं हो पाया। तीसरे स्थान के मुकाबले मे पीवी ने दमदार खेल दिखाया और भारत को दूसरा मेडल दिलाया।

मंगलवार को सिंधु टोक्यो में शानदार कामयाबी हासिल करने के बाद भारत में कदम रखा। दिल्ली एयरपोर्ट पर अपने इस चैंपियन खिलाड़ी का स्वागत फूल माला और गुलदस्ते के साथ किया गया। उनकी तस्वीर लेने वालों की भी कमी नहीं थी और एयरपोर्ट पर लोग ओलिंपिक मेडल विजेता का वीडियो बना रहे थे। कोरोना प्रोटोकॉल की वजह से वह किसी फैन से नहीं मिल पाई लेकिन उन्होंने फिर भी अभिवादन सभी का किया।

दो ओलिंपिक मेडल जीतने वाली अकेली भारतीय महिला

पीवी सिंधु ने रियो ओलिंपिक 2016 में बैडमिंटन सिंगल्स के रजत पदक जीता था। इस बार भी टोक्यो में शानदार खेल के दम पर उन्होंने सेमीफाइनल में जगह पक्की की थी। पीवी सिंधू को सेमीफाइनल मुकाबले में चीनी ताइपे ताई जु यिंग के खिलाफ हार मिली थी। पीवी सिंधू ने विरोधी खिलाड़ी बिंगजयाओ को पहले गेम में 21-13 से हराया। इसके बाद सिंधू ने दूसरे गेम को भी थोड़े संघर्ष के बाद 21-15 से अपने नाम कर लिया।

 

Edited By: Viplove Kumar