कोलकाता, पीटीआइ। एशियन गेम्स की स्वर्ण पदक विजेता हेप्टाथलन एथलीट स्वप्ना बर्मन ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल सरकार के 10 लाख रुपये की घोषणा पर कुछ भी बोलना से मना कर दिया, लेकिन वह चाहती हैं कि कोलकाता में उनके ट्रेनिंग सेंटर के पास उनका अपना एक घर हो। स्वप्ना ने कहा कि मेरी इकलौती ख्वाहिश है कि साई कांप्लेक्स (साल्ट लेक, कोलकाता) के पास मेरा खुद का एक घर हो।

फिलहाल मैं साई कांप्लेक्स में रहती हूं लेकिन अगर मेरा प्रदर्शन ठीक नहीं रहा तो मेरे पास रहने के लिए जगह नहीं होगी। इसलिए मैं चाहूंगी कि सरकार इसमें मेरी मदद करे। बंगाल सरकार ने स्वप्ना की स्वर्णिम जीत के बाद 10 लाख रुपये और एक सरकारी नौकरी देने घोषणा की थी।

स्वप्ना की हो सकती हैै सर्जरी- कोच सुभाष

स्वप्ना बर्मन के कोच सुभाष सरकार ने कहा कि स्वप्ना को पीठ की परेशानी की वजह से कई परीक्षण कराने होंगे और जरूरत पड़ने पर सर्जरी भी करानी पड़ सकती है।

स्वप्ना एशियन गेम्स के इतिहास में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय हेप्टाथलीट बनी थीं। उन्होंने कहा था कि उन्होंने चोट के बावजूद जकार्ता में अपनी प्रतिस्पर्धा में भाग लिया था। भुवनेश्वर में हुए 2017 एशियन चैंपियनशिप उन्होंने स्वर्ण पदक जीता था, लेकिन उसके बाद से ही उनकी पीठ के निचले हिस्से में परेशानी हो रही है। उन्हें घुटने में मामूली चोट भी है।

सरकार ने कहा कि पिछली बार मैंने एशियन गेम्स की वजह से सर्जरी का जोखिम नहीं लिया, लेकिन अब हम देखेंगे कि उनकी हालत कैसी है। उन्हें सर्जरी करानी पड़ सकती है, हमें देखना होगा कि डॉक्टर एमआरआइ और सीटी स्कैन देखने के बाद क्या सलाह देते हैं। उन्होंने कहा कि स्वप्ना का उपचार अब प्राथमिकता है। अगर वह अब प्रतियोगिता में भाग लेती हैं तो वह गिर सकती हैं। मैंने 2019 में उनके लिए कोई बहुत पड़ी प्रतियोगिता नहीं रखी है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal