योकोहामा, रॉयटर्स। इंग्लैंड की टीम ने साल 2019 में घर पर खेलते हुए क्रिकेट विश्व कप खिताब जीता। इंग्लैंड एंड वेल्स में खेले गए आईसीसी विश्व कप का खिताब जीतकर क्रिकेट टीम ने इतिहास रचा था। इंग्लैंड की टीम रग्बी फाइनल में पहुंची तो फैंस को इस साल में एक और विश्व कप खिताब की उम्मीद थी लेकिन साउथ अफ्रीका ने ऐसा होने नहीं दिया।

शनिवार को खेले गए फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड को साउथ अफ्रीका के खिलाफ 32-12 के बड़े अंतर से हार का सामना करना पड़ा। साउथ अफ्रीका के लिए माकाजोले मपिंपी और चेसलिन कोल्बे ने शानदार खेल दिखाया और टीम के पहले विश्व कप खिताब को जीतने में अहम भूमिका अदा की।

12 साल बाद साउथ अफ्रीका बना विश्व चैंपियन

जापान के योकोहामा में खेले गए फाइनल मुकाबले में साउथ अफ्रीकी टीम ने जीत हासिल 12 साल बाद एक बार फिर से विश्व चैंपियन बनने का कमाल किया। कमाल की बात यह रही कि इससे पहले जब 2007 में साउथ अफ्रीका ने विश्व कप का खिताब अपने नाम किया था तो उस बार भी उसके सामने इंग्लैंड की टीम ही खेलने उतरी थी।

साउथ अफ्रीका रिकॉर्ड तीसरी बार बनीं चैंपियन

यह साउथ अफ्रीकी टीम का रिकॉर्ड तीसरा विश्व कप खिताब है। पहली बार साउथ अफ्रीका टीम ने साल 1995 में भी विश्व चैंपियन बनने का कारनामा किया था। शनिवार को इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल में साउथ अफ्रीका को मिली जीत बेहद खास रही। इस जीत के साथ साउथ अफ्रीका रग्बी विश्व कप का खिताब तीन बार जीतना वाला दूसरा देश बन गया। गई। उससे पहले यह कमाल न्यूजीलैंड ने किया था। अब दोनों टीमों के पास संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा हर विश्व कप जीतने का रिकॉर्ड दर्ज हो गया।

इंग्लैंड की टीम ने क्वार्टरफाइनल में साल 1999 की विश्व विजेता टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 40-16 से बड़ी जीत दर्ज की थी। वहीं सेमीफाइनल में खेलते हुए इंग्लैंड की टीम ने डिफेंडिंग चैंपियन न्यूजीलैंड को 19-7 से हराने में कामयाबी हासिल की थी। इंग्लैंड की टीम साल 2003 में पहली बार रग्बी विश्व कप का खिताब जीता था।

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस