लंदन, पीटीआइ। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आइओसी) की सदस्य और रिलायंस फाउंडेशन की संस्थापक चेयरपर्सन नीता अंबानी ने कहा है कि उनका सपना है कि भविष्य में भारत ओलंपिक और फीफा विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंटों की मेजबानी करे। बता दें कि नीता अंबानी खेलों को काफी हद तक प्यार करती हैं। इसके लिए उन्होंने एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स फॉर ऑल(ESA) के नाम से एक एनजीओ भी शुरू किया है।

महान भारत का हिस्सा बनना चाहिए

नीता अंबानी ने खेलों की दुनिया के वैश्विक नेताओं के महत्वपूर्ण सम्मेलन में अपने भाषण में कहा कि कोई भी कारण नहीं है कि भारत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक जीतने वालों में अग्रणी नहीं बन सकता। यह मेरी उम्मीद और सपना है कि भारत को विश्व की खेलकूद की सबसे प्रतिष्ठित चैंपियनशिप जैसे ओलंपिक और फीफा विश्व कप का आयोजन करते देखूं। मैं आप सबको आमंत्रित करती हूं कि आप भी हमारे साथ जुड़िए और इस महान भारत के सपने का हिस्सा बनिए।'

पीएम मोदी भी देते हैं खेलों को बढ़ावा

उन्होंने कहा कि हम सभी भाग्यशाली हैं क्योंकि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास भारत में खेल को एक वैश्विक शक्ति में बदलने की व्यापक दृष्टि है। इस समय भारत में विश्व स्तर पर योग को बढ़ावा देने के अलावा प्रधानमंत्री ने खेलकूद को बढ़ावा देने के लिए हाल ही में दो नई पहल की हैं। इनमें पहला खेलो इंडिया और दूसरा फिट इंडिया है। भारत तेजी से दुनिया में खेलों के क्षेत्र में एक शक्ति के रूप में उभर रहा है।

आइपीएल एक बढ़ती लोकप्रियता की मिसाल

देश में खेलों की बढ़ती ताकत की मिसाल क्रिकेट की लीग आइपीएल है। नीता अंबानी की मालिकाना हक वाली मुंबई इंडियंस ने इस लीग में सबसे ज्यादा चार बार खिताब अपने नाम किया है। अभी हाल ही में नीता अंबानी ने भारतीय टीम और मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत बताया था। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप