उलान-उदे(रूस), एएनआइ। AIBA Women's World Boxing Championships 2019: भारत की उभरती महिला मुक्केबाज मंजू रानी AIBA वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। इसी के साथ भारत का एक और पदक पक्का हो गया है। इंडियन बॉक्सर मंजू रानी (Manju Rani) ने नोर्थ कोरिया की किम ह्यांग मी को 48 किलोग्राम कैटेगरी के क्वार्टरफाइनल में हराया है। 

श्रेष्ठ वरीयता प्राप्त किम को हराया

गुरुवार को मंजू रानी और नोर्थ कोरियाई स्टार बॉक्सर किम ह्यांग मी के बीच AIBA Women's World Boxing Championships का क्वार्टरफाइनल का मुकाबला काफी देर तक चला, जिसमें सर्वश्रेष्ठ वरीयता वाली किम ह्यांग को 4-1 से हरा दिया और एक पदक भारत की झोली में डालने के लिए अपना पैर जमा दिया। इससे पहले सबसे ज्यादा बार ये प्रतियोगिता जीत चुकीं मैरीकॉम भी सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। ये मंजू का पहला मेडल होगा।  

इनसे हो सकता है मंजू रानी का सामना

मंजू रानी को इस प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में बुल्गारिया की सेवदा असेनोवा(Sevda Asenova) या थाईलैंड की Chuthamat Raksat से दो-दो हाथ करने होंगे, क्योंकि इन्हीं दो खिलाड़ियों की भिड़त अभी क्वार्टर फाइनल में होनी है। मंजू रानी से पहले मैरी कॉम ने रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता इनग्रिट वेलेनसिया को 51 किलोग्राम कैटेगरी के क्वार्टर फाइनल में 5-0 से शिकस्त दी थी।  

मैरी कॉम ने भी दिखाई अपनी मुक्केबाजी की ताकत

36 वर्षीय भारतीय चैंपियन बॉक्सर मैरी कॉम के लिए ये आठवां वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप मेडल होगा। उधर, बुधवार को भारतीय बॉक्सर Lovlina Borgohain ने भी क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। Borgohain ने मोरक्को की Oumayma Bel Ahbib को 5-0 से 69 किलोग्राम कैटेगरी में मात दी थी। गौरतलब है कि छठीं वरीयता प्राप्त भारतीय मुक्केबाज मंजू रानी ने वेनेजुएला की रोजास टेयोनिस सेडेनो को 5-0 से शिकस्त देकर क्वार्टर फाइनल में पहली बार जगह बनाई थी।

ये भी पढ़ेः मैरी कॉम ने रचा इतिहास, ऐसा करने वाली दुनिया की पहली मुक्केबाज

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप