रूस, पीटीआइ। Women's world boxing championship Manju Rani: भारत की उभरती महिला मुक्केबाज मंजू रानी ने सोमवार को रूस के उलान-उदे में अंतिम-16 के मुकाबले में आसान जीत के साथ विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। छठीं वरीय भारतीय 48 किलोग्राम की कैटेगरी में मंजू रानी ने वेनेजुएला की रोजास टेयोनिस सेडेनो को 5-0 से हराया।

10 अक्टूबर को है क्वार्टर फाइनल

विश्व चैंपियनशिप में पदार्पण कर रही मंजू रानी इस चैंपियनशिप में पदक जीतने से अब सिर्फ एक जीत दूर हैं। हालांकि, क्वार्टर फाइनल में मंजू की राह आसान नहीं होगी जहां उन्हें पिछली बार की कांस्य पदक विजेता और शीर्ष वरीय दक्षिण कोरिया की किम हयांग मी से 10 अक्टूबर को भिड़ना है। दोनों मुक्केबाजों ने रक्षात्मक रवैया अपनाया लेकिन मंजू के मुक्के अधिक सटीक थे।

एमसी मेरी कोम भी करेंगी मुक्केबाजी

मंगलवार को छह बार की चैंपियन एमसी मेरी कोम (51 किग्रा) प्री-क्वार्टर फाइनल में अपने अभियान की शुरुआत थाइलैंड की जुतामस जितपोंग के खिलाफ करेंगी। तीसरी वरीय भारतीय को पहले दौर में बाई मिली है। पूर्व रजत पदक विजेता स्वीटी बूरा 75 किग्रा में दूसरी वरीय वेल्स की लारेन प्रिंस से भिड़ेंगी। लारेन यूरोपीय खेलों की स्वर्ण पदक विजेता और पिछली विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता हैं। पद्म विभूषण सम्मान के लिए नोमिनेट की गईं मेरी कोम और मंजू रानी के अलावा अभी स्वीटी बोरा भी इस प्रतियोगिता में बनी हुई हैं। 

पहले पदक से एक कदम दूर

मंजू रानी वुमेंस वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पहला पदक हासिल करने से सिर्फ एक कदम दूर हैं। अगर वे क्वार्टर फाइनल में गुरुवार 10 अक्टूबर को किम हयांग मी से जीत जाती हैं, तो उनका कम से कम रजत पदक पक्का हो जाएगा। वहीं, अगर वे क्वार्टर फाइनल के बाद सेमीफाइनल को भी जीत जाती हैं, तो फिर सिल्वर मेडल पक्का हो जाएगा। 

ये भी पढ़ेंः विजेंदर सिंह दुबई में करेंगे मुक्केबाजी, 22 नवंबर को होगा मुकाबला

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप