नई दिल्ली, जागरण न्यूज नेटवर्क। चीन के 36 वर्षीय सुपरस्टार शटलर लिन डेन ने अंतरराष्ट्रीय करियर को अलविदा कह दिया है। दो बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता और पांच बार के विश्व चैंपियन बैडमिंटन खिलाड़ी ने सोशल मीडिया पर अपने संन्यास की घोषणा की। सभी को उम्मीद थी कि वह इस साल जापान में ओलंपिक में भाग लेने के बाद संन्यास लेंगे लेकिन कोरोना के कारण इसके एक साथ टलने के कारण अब उन्होंने संन्यास लेना ही उचित समझा।

सुपर डेन के नाम से मशहूर दुनिया के दिग्गज बैडमिंटन खिलाडि़यों में शुमार लिन डेन का 20 साल लंबा शानदार करियर रहा। इस शटलर ने साल 2000 में खेलना शुरू किया था और 2008 तथा 2012 ओलंपिक खेलों में स्वर्ण जीता। उन्होंने छह बार प्रतिष्ठित ऑल इंग्लैंड ओपन चैंपियनशिप जीती। लिन डेन ने 28 की उम्र तक सुपर ग्रैंडस्लैम पूरा कर लिया था, जिसमें बैडमिंटन की दुनिया के सभी नौ प्रमुख खिताब शामिल हैं।

चीन की सोशल मीडिया वीबो पर डेन ने लिखा, 2000 से 2020, 20 साल बाद मुझे अपनी राष्ट्रीय टीम को अलविदा कहना पड़ रहा है। इस बारे में बात करना बड़ा मुश्किल है। चीनी बैडमिंटन संघ के मुताबिक लिन डेन ने कुछ दिन पहले आधिकारिक संन्यास पत्र जमा कर दिया था। उन्होंने ओलंपिक खेलों, विश्व चैंपियनशिप, बैडमिंटन विश्व कप, थॉमस कप, सुदीरमन कप, सुपर सीरीज मास्टर्स फाइनल, ऑल इंग्लैंड ओपन, एशियन गेम्स और एशियाई चैंपियनशिप में खिताब जीते और यह उपलब्धि हासिल करने वाले पहले और एकमात्र खिलाड़ी बन गए।

पूर्व मलेशियन बैडमिंटन खिलाड़ी ली चोंग वेई ने कहा है, "हमें पता था कि यह दिन जरूर आएगा। हमारी जिंदगी का सबसे मुश्किल लम्हा। आपने बेहद ही सादगी से करियर को अलविदा कहा। आप किंग थे जहां आप शिद्दत के साथ लड़े।"

भारतीय शटलर किदांबी श्रीकांत ने कहा, "मेरा पहला सुपर सीरीज फाइनल चीन में लिन डेन के ही खिलाफ था। यह बेहद यादगार क्षण था, क्योंकि डेन मेरे हमेशा से ही प्रेरणास्त्रोत थे। संन्यास के बाद की जिंदगी के लिए शुभकामनाएं।"

 

Posted By: Vikash Gaur

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस