मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, जेएनएन। मौजूदा एशियन जूनियर चैंपियन और पूर्व जूनियर विश्व नंबर एक लक्ष्य सेन इस महीने से शुरू हो रहे प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। इसके दो कारण हैं। पहला, लक्ष्य पहली बार इस पेशेवर लीग में खेलेंगे और दूसरा, वह मौजूदा विश्व और ओलंपिक चैंपियन स्पेन की कैरोलिना मारिन से बहुत कुछ सीखना चाहते हैं।

पीबीएल के चौथे सत्र का आगाज 22 दिसंबर से होगा और लक्ष्य इस साल इस लीग में पुणे 7 एसेस के लिए खेलते नजर आएंगे। हाल ही में विश्व चैंपियनशिप में रजत और यूथ ओलंपिक में मिक्स्ड टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाले लक्ष्य को इस बात की अत्यधिक खुशी है कि लीग के चौथे सत्र के लिए मारिन भी पुणे टीम का हिस्सा हैं।

लक्ष्य के लिए पीबीएल की सभी बड़ी टीमों ने बोली लगाई लेकिन पुणे की टीम ने उन्हें हासिल किया। लक्ष्य मारिन जैसी सुपरस्टार के साथ खेलने को लेकर काफी रोमांचित हैं। लक्ष्य ने कहा ‘‘मेरे लिए 2018 काफी खास रहा है लेकिन अब मेरा ध्यान सीनियर टूर्नामेंटों में अच्छा करने पर है। मैं पीबीएल में पहली बार खेल रहा हूं। मैं अपनी टीम में शामिल शीर्ष खिलाड़ियों के साथ और कई अन्य शीर्ष खिलाड़ियों के खिलाफ खेलने को लेकर उत्साहित हूं। मैं ओलंपिक चैंपियन मारिन से बहुत कुछ सीखना चाहता हूं।’

प्रकाश पादुकोण के शिष्य उत्तराखंड निवासी लक्ष्य मानते हैं कि पुणे के लिए खेलते हुए उन्हें मारिन से काफी कुछ सीखने को मिलेगा। लक्ष्य ने कहा, ‘मारिन के खेल मे स्वाभाविक आक्रामकता और शक्ति है। मैं उनकी शैली को करीब से देखूंगा और मैचों के दौरान उनसे सलाह लूंगा।’

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप