ब्यूनस आयर्स, प्रेट्र। पिछले तीन दिनों तक लगातार स्वर्ण पदक जीतने के बाद यूथ ओलंपिक में गुरुवार का दिन भारत के लिए बेहद निराशाजनक रहा। गुरुवार को देश को एक भी पदक हासिल नहीं हुआ। भारत को महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी अर्चना कामथ से कांस्य पदक की उम्मीद थी लेकिन वह यह मुकाबला गंवा बैठी जबकि महिला हॉकी टीम को अर्जेटीना से शिकस्त झेलनी पड़ी।

कामथ यूथ ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं। वह रोमानिया की अंदे्रई ड्रागोमैन से 11-8, 11-13, 9-11, 5-11, 9-11 हार गई। भारतीय अंडर-18 महिला हॉकी टीम को इन खेलों में पहली हार मिली और वह फाइव ए साइड के मैच में अर्जेटीना से 2-5 से हार गई। भारतीय टीम ने लगातार तीन मैच जीते थे लेकिन अर्जेटीना से उसे कड़ी चुनौती मिली। हालांकि भारतीय पुरुष हॉकी टीम को भी हार का सामना करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने भारतीय टीम को रोमांचक मुकाबले में 4-3 से मात दी। भारतीय तैराक अद्वैत पेज ने हीट-3 में निराश किया और वह सातवें स्थान पर रहे। इससे पहले निशानेबाज मनु भाकर और सौरभ चौधरी ने स्वर्ण पदक जीता था जबकि भारोत्तोलक जेरेमी लालरिनुंगा ने भी सोना हासिल किया था। भारत तीन स्वर्ण और तीन रजत सहित कुल छह पदकों के साथ अंक तालिका में छठे स्थान पर है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern