Move to Jagran APP

Archery: विश्व कप में भारत को मिली निराशा, पदक नहीं जीत सके तीरंदाज, ओलंपिक टिकट दांव पर

भारत के रिकर्व तीरंदाजों से उम्मीद थी कि वह वर्ल्ड कप में पदक जीतकर अगले महीने से शुरू हो रहे पेरिस ओलंपिक 2024 का टिकट कटा लेंगे। लेकिन ऐसा हो नहीं सका। भारतीय तीरंदाज पदक नहीं जीत सके और इसलिए पेरिस ओलंपिक का टिकट हासिल करने का मौका भी चूक गए। हालांकि अभी भी भारत के पास ओलंपिक में जगह बनाने का मौका है।

By Abhishek Upadhyay Edited By: Abhishek Upadhyay Thu, 20 Jun 2024 08:46 PM (IST)
भारतीय तीरंदाजों ने वर्ल्ड कप में किया निराश

 पीटीआई, अंताल्या: भारतीय रिकर्व तीरंदाजी टीमों का निराशाजनक प्रदर्शन जारी रहा, जिससे दोनों गुरुवार को यहां विश्व कप के तीसरे चरण में पदक से चूक गईं लेकिन अपनी विश्व रैंकिंग के आधार पर पेरिस ओलंपिक टीम कोटा हासिल करने के करीब हैं। विश्व कप के तीसरे चरण में भारतीय महिला टीम चौथे स्थान पर रही, जबकि पुरुष टीम अंतिम 16 तक पहुंची।

अब दोनों टीमों को सोमवार तक का इंतजार करना होगा, जब विश्व तीरंदाजी द्वारा रैंकिंग के आधार पर आधिकारिक सूची की घोषणा की जाएगी। नए नियम के अनुसार रैंकिंग से उन दो शीर्ष देशों को ओलंपिक कोटा दिया जाता है जो ओलंपिक क्वालीफायर के जरिए कोटा प्राप्त नहीं कर सके।

इन लोगों ने जीता ओलंपिक कोटा

इस विश्व कप से पहले अंताल्या में फाइनल ओलंपिक क्वालीफायर कराया गया था। भारत ने धीरज बोम्मादेवरा और भजन कौर की बदौलत क्रमश: पुरुष और महिला वर्ग का ओलंपिक कोटा प्राप्त कर लिया है। क्वालीफाई नहीं करने वाले देशों में भारत को शीर्ष दो रैंकिंग में बने रहने के लिए टीम स्पर्धाओं में अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत थी ताकि वे कट हासिल कर सकें। टीम कोटे से भारत अगले महीने पेरिस ओलंपिक में सभी पांच स्पर्धाओं (पुरुष और महिला टीम, व्यक्तिगत और मिश्रित टीम स्पधा) में हिस्सा लेने में सफल रहेगा।

नहीं मिला पदक

तीरंदाजी वो खेल है जिसमें भारत को अभी तक पदक नहीं मिला है। इस बार भारत की कोशिश होगी कि इस सूखे को खत्म किया जाए। इसलिए भारत के लिए सोमवार को दिन काफी अहम है। भारत को उम्मीद होगी कि उसे सोमवार को उसे ओलंपिक टिकट मिल जाएगा।