गोल्ड कोस्ट, प्रेट्र। 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के उद्घाटन समारोह में अगर भारतीय एथलीटों की आंखों में आशा की किरण दिखाई दे रही थी तो समापन समारोह में उनकी आंखों में संतुष्टि साफ देखी जा सकती थी। गोल्ड कोस्ट के करारा स्टेडियम में हाथों में तिरंगा लिए एमसी मैरी कॉम भारतीय दल की अगुआई कर रही थीं और पूरा स्टेडियम भारत के ऐतिहासिक प्रदर्शन के लिए उसे बधाई दे रहा था।

हजारों एथलीटों के परेड के बीच गोल्ड कोस्ट को कॉमनवेल्थ गेम्स ने अलविदा कहा और बर्मिघम में चार साल बाद मिलने के वायदे के साथ 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स का समापन हो गया।

समापन समारोह के दौरान कई ऑस्ट्रेलियाई कलाकारों द्वारा मोहक प्रस्तुति दी गई। समापन समारोह में कॉमनवेल्थ गेम्स फेडरेशन की अध्यक्ष लुइस मार्टिन ने कहा कि एथलीटों की अद्भुत क्षमता देखने को मिली है। विश्व रिकॉर्ड धारकों का प्रदर्शन, युवा एथलीटों का शानदार प्रदर्शन देखने को मिला।

खेलों के समापन के नजदीक आने के साथ कॉमनवेल्थ गेम्स का भविष्य उज्जवल देखने को मिला है। समापन समारोह में गेम्स को सफल बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले 15 हजार वालंटियरों का भी शुक्रिया अदा किया गया।

Posted By: Sanjay Savern