नई दिल्ली, प्रेट्र। राष्ट्रीय शिविर में ट्रेनिंग शुरू होने में अभी समय लगेगा लेकिन जब यह शुरू होगा तो भी कोविड-19 के भय के चलते मुक्केबाज स्पष्ट दिशानिर्देशों के आने तक कोई स्पारिंग (जोड़ीदार के साथ अभ्यास) नहीं कर पाएंगे।

छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मेरी कॉम ने स्पष्ट किया कि वह ऐसे समय में किसी के साथ ट्रेनिंग करने की सिफारिश नहीं करेंगी जब हाथ से छूने से भी संक्रमित होने की संभावना है। उन्होंने कहा, 'कुछ समय के लिए मुझे ट्रेनिंग में कम से कम स्पारिंग होने की संभावना नहीं दिखती। मैं पूरी तरह से इसके खिलाफ हूं। मेरा मानना है कि ट्रेनिंग अकेले करनी होगी।'

खेल मंत्री किरन रिजिजू ने भारतीय मुक्केबाजी महासंघ के अध्यक्ष अजय सिंह और मेरी कॉम सहित अन्य मुक्केबाजों के साथ ऑनलाइन बातचीत के बाद रविवार को कहा कि स्पारिंग फिर से शुरू होने से पहले सभी जरूरी एहतियात बरते जाएंगे। उन्होंने कहा, 'हमें अच्छी तरह मेडिकल चेक-अप करना होगा, अगर जरूरत हुई तो जोड़ीदारों को क्वारंटाइन में रखना होगा, तभी ट्रेनिंग शुरू हो सकती है।'

वहीं, भारतीय मुक्केबाजी के हाई परफॉर्मेस निदेशक सैंटियागो निएवा ने कहा कि जब भी शिविर शुरू होंगे, तब स्पष्ट दिशानिर्देशों के बिना स्पारिंग सत्र शुरू नहीं होंगे। उन्होंने कहा, 'मेरी राय में एक बंद हॉल में जब कोई अंदर जाकर बाहर नहीं आएगा तो स्पारिंग हो सकती है। हमें सिर्फ सुनिश्चित करना होगा कि जो जोड़ीदारों का समूह चुना गया है, उन्हें अन्य से अलग रखा जाए।'

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021