नई दिल्ली, आइएएनएस। सेना प्रमुख बिपिन रावत ने बुधवार को कहा कि जकार्ता एशियाई खेलों में सेना के खिलाड़ियों का प्रदर्शन मात्र एक ट्रेलर है और टोक्यो ओलम्पिक खेलों में पदकों की संख्या बढ़ाना अगला लक्ष्य है। रावत ने कहा कि उन्होंने सेना के खिलाड़ियों से अधिक पदक की उम्मीद थी और उन्हें विश्वास है कि जो खिलाड़ी एशियाई खेलों में पदक जीतने से चूक गए हैं वे कड़ी मेहनत करेंगे और भविष्य में देश के लिए पदक लाएंगे।

रावत ने यहां 18वें एशियाई खेलों में पदक जीतने वाले सेना के खिलाड़ियों के लिए आयोजित एक सम्मान समारोह के दौरान कहा, " मुझे विश्वास है कि ये एथलीट अपना अधिक प्रयास करना जारी रखेंगे और हमें अधिक से अधिक पदक लाकर देंगे। एशियाई खेल सिर्फ एक ट्रेलर है और आप ओलम्पिक में पूरी मूवी देख पाएंगे। मुझे उम्मीद है कि यह एक फाइव स्टार मूवी होगी। ओलम्पिक मिशन के लिए यह हमारा प्रयास होगा।"

उन्होंने कहा, " जकार्ता एशियाई खेलों के लिए 66 एथलीटों सहित सेना के कुल 73 प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया था। सेना के खिलाड़ियों ने इन खेलों में चार स्वर्ण, चार रजत और तीन कांस्य पदक सहित कुल 11 पदक जीते। मुझे उनसे अधिक पदक की उम्मीद थी। लेकिन मुझे पता है कि जो इस बार पदक नहीं ला सके हैं वह अगली बार पदक लाएंगे।"

रावत ने कहा कि इन एथलीटों ने उनसे अधिक अंतर्राष्ट्रीय मौकों की मांग की है। उन्होंने कहा, "एथलीटों ने मुझसे अधिक अंतरराष्ट्रीय मौकों के बारे में बात की है। वे दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के साथ मुकाबला करना चाहते हैं। इससे एथलीटों का आत्मविश्वास बढ़ता है।"

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pradeep Sehgal