नई दिल्ली, जेएनएन। बजरंग पूनिया पहले ऐसे भारतीय बन गए हैं, जिन्हें 20 से 28 अक्टूबर तक हंगरी के बुडापेस्ट में आयोजित होने वाली विश्व कुश्ती चैंपियनशिप के लिए शीर्ष वरीयता प्राप्त खिलाडि़यों में शामिल किया गया है। पूनिया 65 किलोग्राम भार वर्ग में अपनी चुनौती पेश करेंगे और इसके लिए उन्हें तीसरी सीड दी गई है। 

यूनाइटेड व‌र्ल्ड रेसलिंग ने जो रैंकिंग लिस्ट जारी की है, उसमें बजरंग के 45 अंक हैं। कुश्ती के विश्व संगठन ने प्रतियोगी वरीयता जारी करने के लिए प्री-चैंपियनशिप परफारॅमेंस रैंकिंग अंक का उपयोग करते हुए पहली बार विश्व चैंपियनशिप के लिए वरीयता जारी की है। इसके बाद नई रैकिंग सीरीज जारी होगी। इसकी घोषणा 2017 में पेरिस में हुई विश्व चैंपियनशिप के दौरान की गई थी। इससे पहले, पहलवानों को ड्रॉ के माध्यम से वरीयता दी जाती थी। 

तुर्की सेहात्तिन किलिसालियान को 65 किग्रा वर्ग में 50 अंकों के साथ शीर्ष वरीयता मिली है। रूस के इलिया बेकबुलातोव को दूसरी तथा बजरंग की तीसरी वरीयता मिली है। अजरबैजान के हाजी अलियेव को चौथी वरीयता मिली है। बजरंग बीते 15 दिनों से हंगरी के मात्राहाजा शहर में स्थित मात्राहाजा ओलंपिक ट्रेनिंग सेंटर में अभ्यास कर रहे हैं। 

वह भारतीय टीम से पहले ही हंगरी पहुंच गए थे। भारतीय टीम विश्व चैंपियनशिप के लिए 10 अक्टूबर को हंगरी पहुंची है। वरीयता हासिल करने वाले पहले भारतीय पहलवान बनने पूनिया काफी खुश दिखे। पूनिया ने कहा कि अपनी साख के अनुसार प्रदर्शन करना चाहते हैं।

पूनिया ने कहा कि मैं यहां हालात के साथ तालमेल बनाने के इरादे से टीम से पहले आया था और मेरा ध्यान पूरी तरह विश्व चैंपियनशिप पर है। आशा है कि मैं हर किसी की उम्मीदों पर खरा उतर सकूंगा और स्वर्ण के साथ देश लौटूंगा।

इस साल पूनिया का प्रदर्शन शानदार रहा है। 2018 में आयोजित एशियन गेम्स में पूनिया ने स्वर्ण जीता और इससे पहले आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण जीता। वह 2013 में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में कांस्य जीत चुके हैं।

Posted By: Lakshya Sharma