नई दिल्ली, जेएनएन। एशियन गेम्स शुरू होने को ही है और टूर्नामेंट से ठीक पहले स्क्वॉश खिलाड़ियों को कोच की नए कोच की नियुक्त ना होने की आलोचना करना भारी पड़ गया। खबर है कि खिलाड़ियों की आलोचना से भारतीय स्क्वाश रैकेट फेडरशन यानी एसआरएफआई नाराज हो गई है।

दरअसल देश की सबसे सफल स्क्वॉश खिलाड़ियों में से एक दीपिका पल्लीकल ने कुछ समय योग्य विदेशी कोच की कमी पर चिंता जताई थी। सिर्फ दीपिका ही नहीं बल्कि सौरव घोषाल जैसे स्टार खिलाड़ी भी दीपिका के समर्थन में खड़े थे।

इन खिलाड़ियों के अनुसार इस साल मार्च में टीम के कोच मिस्त्र के अशरफ अल करागुई के हटने के बाद किसी भी विदेशी कोच की नियुक्ति नहीं होने से उन्हें काफी नुकसान हुआ है। जिस पर इन खिलाड़ियों ने नाराजगी जताई थी।  एशियन गेम्स में भी स्क्वॉश टीम बिना किसी कोच के रवाना हो रही है।

सीनियर खिलाड़ियों के बयान के बाद एसएफआरआई ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जब खिलाड़ियों का पूरा ध्यान एशियन गेम्स पर होना चाहिए, तब वह इस तरह की बयानबाजी कर लोगों का ध्यान भटकाना चाह रहे हैं। इससे पहले दीपिका ने कहा थी कि करागुई का जाना बड़ी क्षति है और वह नेशनल कोच साइरस पोंचा और भुवनेश्वरी कुमारी को कोच तक नहीं मानती।

करागुई के जाने के मसले पर फेडरेशन ने कहा कि उन्होंने अपना पद निजी कारणों से छोड़ा था। वहीं दो प्रमुख महिला भारतीय खिलाड़ियों के बीच अनबन भी उनके हटने का कारण रही। इस टीम के साथ पोंचा और 16 बार की नेशनल चैंपियन भुवनेश्वरी जुड़ी हुई हैं, जो प्रमुख टूर्नामेंट में टीम के साथ यात्रा करती है और उनका मार्गदर्शन करती है।

फेडरेशन के कहा कि इस समय खिलाड़ियों को मेडल के लिए मेहनत करनी चाहिए लेकिन उन्होंने ध्यान भटकाने की कोशिश की, जिससे फेडरेशन काफी दुखी है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Lakshya Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस