नई दिल्ली, जेएनएन। ट्रिपल जंप के एथलीट अरपिंदर सिंह आइएएएफ में पदक जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। अरपिंदर ने 16.59 मीटर की कूद लगाते हुए कांस्य पदक पर कब्जा जमाया। जकार्ता एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने वाले अरपिंदर ने अपने पहले प्रयास में 16.59 मीटर की कूद लगाई। इसके बाद अगले दो प्रयासों में वह सर्वश्रेष्ठ 16.33 मीटर की ही कूद लगा पाए और दो एथलीटों के बीच होने वाले फाइनल के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रहे, जिससे उन्हें कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। 

25 वर्षीय अरपिंदर चार साल में एक बार होने वाली इस प्रतियोगिता में एशिया पैसेफिक टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। उन्होंने जकार्ता में 16.77 मीटर कूद लगाई थी, जबकि उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 17.17 मीटर है जो उन्होंने 2014 में किया था। 

अमेरिका के मौजूदा ओलंपिक और विश्व चैंपियन क्रिस्टियन टेलर ने 17.59 मीटर की कूद के साथ स्वर्ण जीता। उन्होंने विश्व यूनिवर्सिटी गेम्स के रजत पदक विजेता ह्यूज फैब्रिस जांगो को पछाड़ा, जिन्होंने 17.02 मीटर की छलांग लगाई।

वहीं, 400 मीटर की दौड़ में मुहम्मद अनस 45.72 सेकेंड के साथ पांचवें स्थान पर रहे। पुरुषों के 1500 मीटर रेस में एशियन गेम्स के स्वर्ण पदक धारी जिंसन जॉनसन तीन मिनट 41.72 सेकेंड के साथ छठे स्थान पर रहे। महिलाओं की 3000 मीटर स्टीपलचेज में सुधा सिंह अपनी दौड़ पूरी नहीं कर पाईं।

नीरज को निराशा 

 भाला फेंक में कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियन गेम्स के स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा को निराशा हाथ लगी और वह आठ एथलीटों में 80.24 मीटर के सर्वश्रेष्ठ प्रयास के साथ छठे स्थान पर रहे। पहले प्रयास में उन्होंने 80.24 मीटर का स्कोर किया और फिर दूसरे प्रयास में उनका भाला 79.76 मीटर से आगे नहीं बढ़ पाया। वहीं, नीरज के तीसरे प्रयास को अयोग्य करार दिया गया।  इस सत्र में नीरज का यह सबसे खराब प्रदर्शन है। 

 

Posted By: Lakshya Sharma