पंचकूला, जेएनएन। दिग्गज कबड्डी खिलाड़ी और पूर्व भारतीय कप्तान अनूप कुमार ने बुधवार को यहां संन्यास लेने की घोषणा की। अर्जुन पुरस्कार विजेता अनूप कुमार ने 2006 में दक्षिण एशियाई खेलों में श्रीलंका के खिलाफ अपने करियर की शुरुआत की थी। वह 2010 और 2014 में एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय टीम का सदस्य थे।

35 वर्षीय अनूप 2014 एशियन गेम्स में भारतीय टीम के कप्तान भी थे। उनकी अगुआई में भारत ने 2016 में विश्व कप भी जीता था। प्रो कबड्डी लीग के दूसरे सत्र में यू मुंबा ने उनके नेतृत्व में खिताब जीता था।

अनूप ने संन्यास की घोषणा करते हुए कहा, ‘जब मैंने कबड्डी खेलना शुरू किया था तो यह मेरा शौक था जो समय के साथ मेरी जिंदगी का अहम हिस्सा बन गया। मेरा सपना देश का प्रतिनिधित्व करना और स्वर्ण पदक जीतना था और मैं उन भाग्यशाली लोगों में हूं जिन्हें अपने सपने सच करने का मौका मिला। आज प्रो कबड्डी लीग के साथ खेल काफी आगे बढ़ चुका है और मुङो खुशी है कि मैं इस यात्र में भागीदार रहा। यह मंच मेरी जिंदगी का सबसे महत्वपूर्ण पहलू रहा और इसलिए मैंने संन्यास की घोषणा के लिए इस मंच को चुना। संयोग से आज (बुधवार) मेरे बेटे का 10वां जन्मदिन भी है और इसलिए यह दिन अधिक यादगार बन गया है।’

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस