संवाद सूत्र, बीरमित्रपुर : ओडिशा माध्यमिक शिक्षक संघ एवं ओडिशा शिक्षक, प्राध्यापक कर्मचारी संयुक्त मंच के आह्वान पर ब्लाक ग्रांट स्कूल कॉलेज के शिक्षक व प्राध्यापक शिक्षक आंदोलरत हैं। आंदोलन से स्कूलों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। नुआगांव प्रखंड के झारबेड़ा पंचायत के लुकुमबेड़ा गदाधर माझी हाईस्कूल के सभी सात शिक्षक भुवनेश्वर चले गये हैं जिस कारण स्कूल में तीन दिन से ताला लगा है।

ब्लाक ग्रांट स्कूलों को पूर्ण अनुदान, नौकरी शर्तावली, ब्लाक ग्रांट शिक्षक वेतन बढ़ोतरी, पेंशन सुविधा समेत अन्य मांगों को लेकर भुवनेश्वर में आंदोलन चल रहा है। विभिन्न मांगों पर विचार नहीं होने के कारण ब्लाक ग्रांट स्कूल व कॉलेज के शिक्षक व प्राध्यापक इसमें शामिल हो रहे हैं। राउरकेला शहर के नील शैल कॉलेज, कल्याणी राय कॉलेज, प्रियदर्शनी कॉलेज, हृषिकेश राय कॉलेज समेत एक दर्जन से अधिक कॉलेजों में ब्लाक ग्रांट कॉलेजों के प्राध्यापक भी आंदोलन में शामिल हैं। विद्युत कॉलोनी हाईस्कूल, रामकृष्ण मिशन स्कूल छेंड, प्रगति विद्यामंदिर, सरस्वती विद्यापीठ, कोयल विद्यापीठ, मोनको ग्राम पंचायत हाईस्कूल, डुमेरता हाईस्कूल, ओएसएपी हाईस्कूल, बिरसा मुंडा बालिका स्कूल, मुंडाजोर पंचायत हाईस्कूल समेत 70 से अधिक ब्लाक ग्रांट स्कूल के शिक्षकों का छह महीने का वेतन नहीं मिला है। इस कारण वे आंदोलन में शामिल हो रहे हैं। लुकुमबेडा स्कूल के सात शिक्षक आंदोलन में शामिल होने के लिए भुवनेश्वर गए हैं। जिससे कारण आठवीं, नौवीं एवं दसवीं कक्षा के 163 बच्चे स्कूल नहीं आ रहे हैं। मैट्रिक की परीक्षा की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों की पढ़ाई इससे अधिक प्रभावित हो रही है।

Posted By: Jagran